हेलमेट मैन ने ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को दिया सड़क सुरक्षा का मंत्र.



धनसिंह—समीक्षा न्यूज                      

सरहदों पर जाने से पहले सड़कों पर दम तोड़ रहे हैं युवा हेलमेट मैन ने ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को दिया सड़क सुरक्षा का मंत्र.

 बुधवार बिहार के कैमूर जिला सिसौड़ा पंचायत के युवाओं समाजसेवी प्रदीप कुमार सिंह के नेतृत्व में खेल मैदान की मांग को लेकर साइकिल से तिरंगा यात्रा निकाला जिसे हरी झंडी दिखाने का काम दुनिया में और भारत में हेलमेट मैन के नाम से जाने जाने वाले राघवेंद्र कुमार सिंह ने दिया. खुद  साइकिल पर हेलमेट लगाकर बच्चों का जोश बढ़ाया पंचायत के बच्चों को  निशुल्क पुस्तकें पहुंचाने के गांव के गांव के सभी अभिभावकों को पुस्तक लेने के लिए पुस्तकालय पर आमंत्रित किया. बच्चों की पढ़ाई के साथ  खेल और सड़क सुरक्षा के नियमों के प्रति  जागरूकता  होना एक कला है जो हर कदम पर  जीवन को  सरल बनाता है. हेलमेट मैन के साथ  आज सैकड़ों बच्चों ने भाग लिया. जो सामुदायिक भवन पुस्तकालय से शुरू होकर ओड़ियाडीह होते हुए अल्लीपुर, तेनुआ, किशुनपुरा, बहपुरा, पटखौलिया, बगाढी, सेनिसराय होते हुए सिसौड़ा सामुदायिक भवन के प्रांगण में समाप्त हुई ।

 सभी युवा हमें चाहिए खेल मैदान का नारा लगाते हुए भारत माता की जय के नारे लगाते हुए पंचायत के सभी गांव में भ्रमण किए और बिहार के वर्तमान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मांग की, कि पंचायत के युवाओं के लिए खेल मैदान की व्यवस्था की जाए हम सड़कों पर दौड़ लगाने के लिए मजबूर हैं जिससे आए दिन सड़क हादसे होते रहते हैं और युवाओं की जान जाने का खतरा बना रहता है सड़क सुरक्षा के दृष्टिकोण से हम सबके बीच अतिथि के रूप में हेलमेट  मैन ने युवाओं को हेलमेट की अहमियत समझाई।  साथ ही उन्हें शिक्षा से जुड़ने का आग्रह किया। प्रदीप कुमार सिंह ने बताया कि आने वाले समय में युवा साथियों के सहयोग से खेल मैदान के साथ-साथ पुस्तकालय प्रयोगशाला का निर्माण कराया जाएगा जिसमें हर एक  व्यक्ति से सहयोग मिलेगा साथ ही साथ सभी युवाओं ने मिलकर संकल्प लिया कि अपने गांव घर और आसपास को हमेशा स्वच्छ रखेंगे ।  इसे इसे साइकिल मार्च का तिरंगा यात्रा में जो खेल मैदान के लिए रखा गया था सैकड़ों युवाओं ने भाग लिया और खेल के मांग की आवाज उठाई ।।  इस मुहिम में समाजसेवी प्रदीप कुमार के साथ हेलमेट मैन राघवेंद्र शुभम सिंह अमित सिंह राणा शत्रुघ्न बिंद, मुन्ना सर, आशुतोष कुमार सिंह, राजेश कुमार सिंह सुशील कुमार सिंह भीम राम गोपाल मौर्य, वीरेंद्र मौर्य,विक्रम सिंह नारद मुनि सिंह, श्याम बिहारी सिंह, धर्मेंद्र यादव, राजेश्वर पांडेय, सोनू राम, नीतीश, मनु मौर्य, ईश्वर राम जैसे मुख्य लोगों ने सहयोग किया।