बसपा ने जिलाध्यक्ष पद से कुलदीप कुमार ओके को हटाया, वीरेंद्र जाटव बने जिलाध्यक्ष




धनसिंह—समीक्षा न्यूज  

गाजियाबाद। बहुज समाज पार्टी में अंदर खाने चल रही कलह के बाद बसपा सुप्रीमो ने कुलदीप कुमार को पद से हटाकर वीरेंद्र जाटव को जिलाध्यक्ष की कमान सौंपी है। पिछले काफी समय से पार्टी के किसी न किसी नेता पर आरोप लग रहा था। बसपा के ही एक कार्यकर्ता ने पूर्व जिलाध्यक्ष और पश्चिमी यूपी के प्रभारी पर मारपीट व अन्य आरोप लगाए थे।

लगभग पिछले आठ महीने से बहुजन समाज पार्टी के अंदर कार्यकर्ताओं में आपसी कलह चल रही थी। सबसे पहले पार्टी के जिला उपाध्यक्ष मुनव्वर चौधरी के पोस्टर पर स्याही पोत दी गई थी। उसमें पार्टी के कुछ सीनियर लोगों के नाम भी सामने आए थे। वह मामला दब गया। उसके बाद बसपा कार्यालय के दीवारों पर अभद्र टिप्पणी लिखी गई थीं। बसपा के पूर्व जिलाध्यक्ष कुलदीप कुमार पर मारपीट व अभद्रता करने का आरोप लगा था। अंदर खाने कुछ नेताओं की गुटबाजी हावी थी। वीरेंद्र कुमार पहले भी तीन बार पार्टी के जिलाध्यक्ष रह चुके हैं। अभी तक वीरेंद्र बागपत के सेक्टर प्रभारी थे। उससे पहले उत्तराखंड प्रदेश प्रभारी रहे हैं। वीरेंद्र कुमार ने बताया कि वह पार्टी के सिपाही हैं, जो जिम्मेदारी उन्हें दी जाएगी। उसे अच्छे से निभाएंगे।