गुणवत्ता, पारदर्शिता, निष्ठा, समर्पण,भाव संगठन को शक्तिशाली बनाता है बीके शर्मा हनुमान


धनसिंह—समीक्षा न्यूज  

गाजियाबाद। गाजियाबाद चिकित्सक वेलफेयर एसोसिएशन के संस्थापक अध्यक्ष  बी के शर्मा हनुमान ने आए हुए सम्मानित प्राइवेट चिकित्सक वेलफेयर एसोसिएशन के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए चिकित्सक कार्यकर्ता की गुणवत्ता, पारदर्शिता, निष्ठा, समर्पण की चर्चा की। चिकित्सकों के समर्पण के साथ आपसी समन्वय पर भी चर्चा की। बीके शर्मा हनुमान ने इन सभी बिंदुओं पर विचार रखे। कहा कि किसी भी संगठन की रीढ़ उसका कार्यकर्ता होता है। उसे यह देखना होगा कि किसी तरह से अपने प्राइवेट चिकित्सक वेलफेयर एसोसिएशन संगठन को मजबूत करें। इसके लिए अधिक से अधिक प्राइवेट चिकित्सकों  के बीच जाकर देश व प्रदेश के वर्तमान परिस्थितियों के बारे में उन्हें बताना होगा।  देश में ग्रामीण आंचल में बैठे चिकित्सको की क्या स्थिति है वह लोगों तक पहुंचे। प्राइवेट चिकित्सकों  में कैसे एकजुटता आए इसके लिए प्रयास करना होगा। आज  प्राइवेट चिकित्सक के सामने गंभीर संकट है। हनुमान ने कहा की चिकित्सकों के जीवन में संगठन का बड़ा महत्व है। अकेला चिकित्सक  शक्तिहीन है, जबकि संगठित होने पर उसमें शक्ति आ जाती है। संगठन की शक्ति से मनुष्य बड़े-बड़े कार्य भी आसानी से कर सकता है। संगठन में ही प्राइवेट चिकित्सक की सभी समस्याओं का हल है प्राइवेट चिकित्सक वेलफेयर एसोसिएशन का मार्ग ही प्राइवेट चिकित्सकों की विजय का मार्ग है। यदि प्राइवेट चिकित्सक किसी गलत उद्देश्य के लिए संगठित हो रहा है तो ऐसा संगठन अभिशाप है, जबकि किसी अच्छे कार्य के लिए प्राइवेट चिकित्सक वेलफेयर एसोसिएशन वरदान साबित होता है। प्राइवेट चिकित्सक वेलफेयर एसोसिएशन एकता का संदेश देता  हैं। कोई भी  संगठन आपस में बैर करना नहीं सिखाता। इस अवसर पर डॉ डीपी नागर डॉ एके जैन डॉक्टर एनएस तोमर डॉक्टर सुभाष शर्मा डॉक्टर नूर मोहम्मद डॉक्टर संजय कुशवाहा डॉ सुनीता बहल डॉक्टर रुखसाना परवीन डॉक्टर शहनाज परवीन डॉ शीला रानी डॉक्टर बिल्लू प्रजापति डॉक्टर मिलन  मंडल डॉ मनोज कुमार डॉ दिलीप कुमार डॉक्टर फरहा डॉक्टर राशिद सहित सैकड़ों चिकित्सक मौजूद थे