“चतुर्वेद मन्त्र संहिताओं का चार खण्डों में भव्य एवं नयनाभिराम प्रकाशन”


हितकारी प्रकाशन समिति, हिण्डोन सिटी (राजस्थान) ऋषि दयानन्द एवं इतर वैदिक साहित्य का प्रकाशन कर आर्य जगत् की प्रशंसनीय सेवा कर रही है। इस प्रकाशन समिति का संचालन प्रसिद्ध ऋषिभक्त श्री प्रभाकरदेव आर्य जी हिण्डोन सिटी करते हैं। इस संस्था ने विगत तीन दशकों में वैदिक साहित्य का प्रकाशन कर एक क्रान्ति को जन्म दिया है। इसके परिणाम से हमें अनेक विलुप्त व नये ग्रन्थों की प्राप्ति हुई है। यह कार्य सुव्यवस्थित रूप से चल रहा है। ईश्वर से प्रार्थना है कि यह कार्य इसी प्रकार चलता रहे और वैदिक धर्म के अनुयायियों को उत्तम कोटि का साहित्य प्राप्त होता रहे। 

हम यह भी बता दें कि पिछले कुछ समय से बन्धुवर श्री प्रभाकरदेव आर्य जी पैर के घुटनों में दर्द से परेशान चल रहे थे। पिछले महीने उन्होंने दूसरी बार घूटने की शल्य क्रिया कराकर घुटना बदलवाया है। यह शल्य क्रिया सफल रही है। अब उन्होंने हिण्डोन सिटी में अपने प्रकाशन स्थान पर आना जाना व कार्य करना भी आरम्भ कर दिया है। हम आशा करते हैं और डाक्टरों ने भी आश्वस्त किया है कि एक दो महीनों में ही बन्धुवर प्रभाकर जी एक सामान्य व्यक्ति की भांति चल फिर सकेंगे। इसके लिये हमारा ईश्वर को धन्यवाद है और श्री प्रभाकरदेव आर्य जी को हमारी शुभकामनायें हैं। 

श्री प्रभाकर देव आर्य जी ने कुछ समय पूर्व ‘कुशवाह-ग्रन्थावली’ को तीन भागों में प्रकाशित करने की महत्वाकांक्षी योजना की घोषणा की थी। इसके साथ उन्होने इस ग्रन्थावली के अग्रिम ग्राहकों को कविरत्न श्री मेधाव्रत आचार्य रचित एक महत्वपूर्ण ग्रन्थ ‘‘दयानन्द दिग्विजय महाकाव्य का समालोचनात्मक अध्ययन” (लेखक डा. प्रदीपकुमार चतुर्वेदी) निःशुल्क प्रदान करने की भी घोषणा की थी। इस ग्रन्थमाला के अग्रिम ग्राहकों को ग्रन्थमाला का प्रथम पुष्प ‘कुशवाह-ग्रन्थावली’ (खण्ड-1) भेजा जा चुका है। शेष भागों का प्रकाशन कार्य प्रगति पर है। यह शेष भाग भी पाठकों को यथासमय प्राप्त होंगे। 

श्री प्रभाकरदेव आर्य जी ने इसके बाद एक अन्य योजना की घोषणा की है। यह योजना चारों वेदों की मन्त्र संहिताओं के भव्य एवं नयानाभिराम मुद्रण व प्रकाशन की है। प्रकाशन का कार्य योजनानुसार पूर्ण हो गया है। ग्रंथ के सभी खण्ड प्रकाशित हो गये हैं। परमात्मा की अमरवाणी चार वेदों की संहिताओं का यह महत्वपूर्ण ग्रन्थ ऋषि दयानन्द के समय में असुलभ था तथा बहुत कठिनता से प्राप्त होता था। ऋषि दयानन्द जी ने किस प्रकार इन संहिताओं को प्राप्त कर इनके भाष्य आदि का कार्य किया, इससे सम्बन्धित पूरा विवरण ज्ञात नहीं है। उनका जीवन चरित पढ़ने पर ज्ञात होता है कि उन्हें सन् 1863 में वेद संहितायें प्राप्त करने में कठिनाई आयी थी। ऋषि व वेदभक्त प्रभाकरदेव आर्य जी ने चारों वेदों की मन्त्र संहिताओं का ऐसा भव्य व सुन्दर प्रकाशन किया गया है जैसा इससे पूर्व शायद ही हुआ हो। यह वेद मन्त्र संहितायें डिमाई आकार में लगभग 2450 पृष्ठों में चार खण्डों में प्रकाशित हो रही हैं। इस पूरे सेट का मूल्य रुपये 1200/- मात्र रखा गया है। ग्रन्थ के चारों भागों का अग्रिम मूल्य 1067.00 है। इस अग्रिम मूल्य की सुविधा स्वामी श्रद्धानन्द बलिदान दिवस दिनांक 23-12-2020 तक बढ़ा दी गई है। इस तिथि तक अग्रिम मूल्य भेजने पर चारों वेद संहितायें ग्राहकों को प्राप्त होंगी। डाक वा कोरियर व्यय भी ग्राहकों से नहीं लिया जायेगा। इसके साथ ही अग्रिम ग्राहको को डा. सोमदेव शास्त्री जी, मुम्बई की 600 पृष्ठों वाली पुस्तक ‘‘वेदों का दिव्य सन्देश” उपहार में दी जा रही है। अतः निवेदन है कि परमात्मा की इस अमर वाणी को हमारे सभी पाठक मित्रों को अग्रिम ग्राहक बनकर प्राप्त करना चाहिये। यदि आपके गृह में वेद संहितायें होगीं तो इससे आप कर्तव्य पालन करने से आपको लाभ हो सकता है। आप अपने मित्रों को भी इसका दर्शन करा सकते हैं। 

वेद संहिताओं के लिये धन भेजने के लिये नेट बैंकिंग आदि साधनों का प्रयोग किया जा सकता है। हितकारी प्रकाशन समिति, हिण्डौन सिटी का बैंक विवरण निम्न प्रकार हैः

खाते का नाम: हितकारी प्रकाशन समिति

खाता संख्या: 50200027920292

बैंक का नामः  H D F C स्टेशन रोड, हिण्डौन सिटी।

IFSC Code : HDFC0002589


जो बन्धु इस योजना का लाभ उठाना चाहें वह हितकारी प्रकाशन समिति के खाते में धन जमा कर श्री प्रभाकरदेव आर्य जी को उनके मोबाइल नं. 7014248035 पर मौखिक व व्हटशप करके सूचित कर दें। आगामी कुछ सप्ताह में ही चतुर्वेद संहिताओं के चारों भाग एवं ‘वेदों का दिव्य सन्देश’ पुस्तक डाक से आपको मिल जायेगी। 

वेद मन्त्र संहिताओं को चार खण्डों में भव्य एवं सुन्दर साज सज्जा के साथ प्रकाशित करने के लिये हम ऋषिभक्त श्री प्रभाकरदेव आर्य जी का अभिनन्दन करते हैं व उनके इस महान कार्य के लिये उन्हें बधाई देते हैं। 

-मनमोहन कुमार आर्य

पताः 196 चुक्खूवाला-2

देहरादून-248001

फोनः09412985121