लव जिहाद और धर्मांतरण रोकने के लिए जल्द बने कानून- गुलशन राजपूत


समीक्षा न्यूज—  
गाजियाबाद। निकिता तोमर हत्याकांड ने पूरे देश को झकझोर दिया है जिस कारण पूरे देश से लव जिहाद पर कानून बनाये जाने की मांग हो रही है, लव जेहाद की आड़ में धर्मांतरण के खिलाफ गुलशन राजपूत  ने कहा कि जल्द ही पूरे देश में अध्यादेश जारी किया जाना चाहिए क्योंकि देश मे लव ज़िहाद के मामले आये दिन बढ़ रहे है जिस कारण धर्मांतरण हो रहा है सरकार को एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए एक ऐसा कानून बनाना चाहिए कि जो भी धर्मांतरण करे उसे जल्द से जल्द फांसी हो, साथ ही यह भी बताया जिस प्रकार आठ राज्य धर्मांतरण के खिलाफ कानून लागू कर चुके  हैं, जिनमें से उड़ीसा पहला राज्य है जिसने धर्मांतरण के खिलाफ कानून लागू किया है, तो वहीं अरुणाचल प्रदेश, मध्यप्रदेश, झारखंड, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और गुजरात ने अपने-अपने प्रदेश में धर्मांतरण कानून को लागू किया हुआ है. अब इस तरह पूरे भारत देश मे धर्मांतरण कानून लागू किया जाएगा,  यह मामला है तो सभी जगह का लेकिन हाल के कुछ दिनों में दिल्ली ,मेरठ, खीरी, कानपुर, में लव जिहाद के मामलों ने तूल पकड़ लिया है. यहां पिछले दिनों लड़कियों को प्रेमजाल में फंसाने की बातें सामने आयी हैं.ओर जो लडकिया प्रेमजाल में नही फसती है उन्हें मार दिया जाता है, हिंदू युवतियों से शादी को लव जिहाद कहते हुए बताया गया है कि इसमें सोशल मीडिया का जमकर दुरपयोग हो रहा है। मुस्लिम युवक साजिशन नाम बदलकर हिंदू युवतियों से संपर्क करते हैं और उनसे शादी होने तक असलियत छुपाते हैं। कई मामलों में शादी के बाद युवतियों को अमानवीय यातनाएं तक देने की बात सामने आई है।


यह की मांग
स्वजन को एक करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता दी जाए। प्रदेश की सरकार स्वजनों को सुरक्षा दे। अपराधियों को विशेष ट्रायल कोर्ट बनाकर शीघ्र सुनवाई कर फांसी की सजा दी जाए। साथ ही लव जिहाद और धर्मांतरण रोकने के लिए जल्द से जल्द कानून बने।