लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर की आवाज पर भारत बन्द के विरोध में उमड़ा जनसैलाब

 





धनसिंह—समीक्षा न्यूज

लोनी। मंगलवार को लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर के नेतृत्व में हजारों लोगों ने भारत बन्द के खिलाफ पैदल मार्च निकालकर कृषि सुधार कानून का समर्थन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा लिए गए निर्णय को किसान हितेषी बताया। इस दौरान शिव मंदिर लोनी से लोनी तिराहा होते हुए बलराम नगर से वापिस शिव मंदिर तक आयोजित पैदल मार्च में लोनी के किसान संगठन, प्राधन संगठन, एनजीओ, आईडब्ल्यूए, व्यापार मंडल शामिल रहा। विधायक नंदकिशोर गुर्जर और कानून समर्थकों ने  देशविरोधी ताकतों के खिलाफ़ और मोदी-योगी-किसानों के समर्थन में नारे भी लगाएं।

विधायक ने कहा कि मोदी जी की सरकार ने किसानों के हितों के लिए सदैव काम किया है। आज किसान खुशहाल है।  पूर्व की सरकारों ने किसानों को ठगने का काम किया था। आज पहली बार किसान कृषि सुधार कानून के माध्यम से बिचौलियों और सूदखोरों के चुंगुल से आज़ाद  हुआ है।


"सीएए की तरह एमएसपी पर किसानों को गुमराह कर देश को गृह युध्द में झोंकना चाहता है विपक्ष":

विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने भारत बन्द विरोधी पैदल मार्च से पहले विभिन्न संगठनों और किसान संगठनों की बैठक को संबोधित करते हुए बताया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर विपक्ष, टुकड़े-टुकड़े गैंग, खालिस्तानी, शाहीन बाग गैंग, केजरीवाल जिन्हें पुदीना और धनिया पत्ता की जानकारी नहीं है, अपने आदत के अनुसार झूठ बोल रहे है और मंडियों के समाप्ति पर भी हवा हवाई बात कर देश को गृह युध्द में झोंकना चाहते है जो किसी भी कीमत पर लोनी की 18 लाख जनता बर्दाश्त नहीं करेगी 

कृषि सुधार कानून से किसानों का वर्षों का सपना 'एक देश-एक बाजार' पूरा होगा।  सीएए को लेकर जिस तरह से मुस्लिमों को गुमराह किया गया। अब किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) खत्म होने की बात कहकर गुमराह किया जा रहा है। सच्चाई है कि एमएसपी मिलता रहेगा। माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी किसानों के सच्चे हितैषी है। सरकार ने एमएसपी में डेढ़ सौ फीसद की वृद्धि की है। किसानों को मंडी के साथ ही फसल बेचने के अन्य विकल्प उपलब्ध कराए गए हैं। कांग्रेस ने डॉ. स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू नहीं की थी लेकिन किसानों के हित में मोदी सरकार ने इसे लागू किया है। फसल बीमा योजना में बदलाव किए गए हैं। 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के किसानों को पेंशन की सुविधा दी गई। नीम कोटेड यूरिया, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, किसान क्रेडिट कार्ड, सॉइल कार्ड आदि से छोटे किसानों को संबल मिला है। कोरोना काल में वर्चुअल माध्यम से किसानों की फसल खरीदी गई। पहले की तुलना में 65 फीसद ज्यादा फसल की खरीद हुई है। कृषि कानून किसानों के हित में है, लेकिन विपक्ष गैर जिम्मेदाराना और अराजकता का माहौल बनाकर  किसानों को झूठी जानकारी देकर अपना राजनीतिक हित साधने की कोशिश में है।


विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने सफल 'भारत बन्द विरोधी पैदल मार्च' के लिए सभी का आभार:

विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने भारत बन्द विरोधी मार्च में शामिल हुए विभिन्न संगठनों को संबोधित करते हुए कहा कि एक छोटी सी आवाज पर लोनी के राष्ट्रवादी नागरिकों, आरडब्ल्यूए, प्रधान संगठन, एनजीओ, किसान संगठनों, व्यापार मंडल द्वारा  हजारों की संख्या में भारत बन्द के खिलाफ आयोजित भारत बन्द पैदल मार्च में शामिल होकर आपने बता दिया कि जब भी देशहित की बात होगी लोनिवासी पहली पंक्ति में खड़े होंगे। हमने पूर्व में तैमूर लंग जैसों को खदेड़ने का कार्य किया है जिस दिन यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का इशारा होगा किसानों के हित में देशविरोधी टुकड़े-टुकड़े गैंग, शाहीन बाग और खालिस्तान समर्थकों को खदेड़ने का कार्य करेंगे। आज भारत बन्द का देश-प्रदेश-लोनी में विफल होना यह साबित करता है कि कृषि सुधार कानून किसान हितेषी है और पूरा देश एक स्वर में देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के साथ मजबूती से खड़ा है

वहीं विधायक प्रतिनिधि पं ललित शर्मा ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री एवं राज्य कर माननीय मुख्यमंत्री जी की मंशा के अनुरूप माननीय विधायक जी के आदेश पर कृषि विभाग गांव-गांव निरन्तर कैंप लगाकर किसानों का मार्गदर्शन कर रहा है।लोनी के इतिहास में पहली बार किसान खुशहाल है आज किसानों को भरपूर बिजली मिल रही है। यह सब माननीय विधायक नंदकिशोर गुर्जर जी के प्रयासों से सार्थक हुआ है।