राशिद मलिक, वीरेन्द्र यादव ने धरने पर बैठे किसानों को कराया भोजन व जल मुहैया



धनसिंह—समीक्षा न्यूज    

साहिबाबाद। समाजवादी पार्टी जनपद गाजियाबाद के जिलाध्यक्ष राशिद मलिक, वीरेन्द्र यादव एडवोकेट जिला महा सचिव के नेतृत्व में यू0पी0 गेट पर 10 दिन से धरने पर बैठे किसान भाईयों में भोजन के पैकेट तथा पानी की बोतल का वितरण किया गया। इनके साथ साहिबाबाद विधान सभा अध्यक्ष सरदार अवतार सिंह काले, इन्जी0 धीरेन्द्र यादव, उपेन्द्र यादव, विजय भारद्वाज, अमर बहादुर, सुभाष यादव ने खाना वितरण में सहयोग किया।

जिलाध्यक्ष राशिद मलिक, वीरेन्द्र यादव एडवोकेट ने एक संयुक्त बयान में कहा कि आज किसान 10 दिन से खुले आसमान के नीचे धरना स्थल पर 3 काले कानून को वापस लेने के लिए संघर्ष करता हुआ कष्ट झेल रहा है, लेकिन केन्द्र सरकार अति संवेदनहीन बनी हुई है। किसानों का कहना जायज है कि जब केन्द्र सरकार किसानों के लिए  संसद में बिल लायी उसके पहले किसान नेताओं से वार्ता करनी चाहिए थी लेकिन सरकार तो बडे़ पूंजी पतिओं के दवाब में बहुत जल्दी में अध्यादेश लाकर कानून बनवा दिया। हम सरकार से मांग करते है कि किसानों की मांग को मानते हुऐ, यह किसान विरोधी कानून वापस लिया जाय। यह बिल किसान ही नहीं उपभोक्ता विरोधी भी है। इसके लागू होने से खाद्यान्न बहुत ही मंहगा हो जायेगा, सब्जियों के दाम आसमान छू जायेगा। भारत की 80 प्रतिशत जनता संकट में आ जायेगी। सरकार संवेदन शून्य न बने। अहंकार न पाले पुर्नविचार कर किसानों के हित में काम करें। आज किसानों के आन्दोलन से आमजन परेशान है। यातायात व्यवस्था चरमरा गयी है। आवश्यक वस्तुओं के दाम आसमान छूने लगे। सरकार को न किसानों का, आमजनों का दर्द नहीं दिखाई दे रहा न सुनाई दे रहा है। हठधर्मिकता छोड़ अविलम्ब देश, समाज हित में हल निकालना सरकार की जिम्मेदारी है। वह अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकती। वैक्सीन के नाम पर किसानों की समस्या से जनता का घ्यान  न भटकाया जाये।