वायु प्रदूषण को रोकने के उद्देश्य से एनजीटी के नियमों का अक्षर से पालन किया जाएगा सुनिश्चित: मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल



धनसिंह—समीक्षा न्यूज

गाजियाबाद। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के नेतृत्व में मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल की अध्यक्षता में आज जिला पर्यावरण समिति की बैठक कलेक्ट्रेट के महात्मा गांधी सभागार में आयोजित हुई।इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी ने समस्त अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि पर्यावरण के मानकों का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियोंध्संस्थानों के विरुद्ध मा0 सर्वोच्च न्यायालय के आदेशानुसार कार्यवाहीध्जुर्माना अधिरोपित किये जाने की कार्यवाही गंभीरता से सुनिश्चित कराई जाए ताकि पर्यावरण अनुकूल बना रहे। वायु प्रदूषण पर यातायात के प्रतिकूल प्रभाव के दृष्टिगत मुख्य विकास अधिकारी द्वारा सभी जन-मानस से अपील की गयी है कि वह जहाँ तक सम्भव हो वाहनों का प्रयोग कम से कम करें तथा आवश्यकता की वस्तुऐ अपने समीप केन्द्रोंध्संस्थानों से क्रय करे। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा सड़क निर्माण सम्बन्धी विभागों यदा गाजियाबाद विकास प्राधिकरण, नगर निगम, लोक निर्माण विभाग आदि को निर्देशित किया गया कि वह सभी हॉट मिक्स प्लांट का संचालन पर्यावरणीय अधिनियमों तथा आवश्यक जल छिड़काव करते हुए कराना सुनिश्चित कराएं। बैठक में एन्टी स्मॉग गन की स्थापना किये जाने पर अधिकारियों की विशेष तैनाती करते हुए यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये कि एन0एच0ए0आई0 द्वारा किये जा रहे कार्यो से वायु प्रदूषण की समस्या उत्पन्न न हो। मुख्य विकास अधिकारी ने वाहनों के माध्यम से होने वाले प्रदूषण को कम करने के उद्देश्य से जनपद के सभी नागरिकों से अपील की है कि कम से कम वाहनों का प्रयोग करें का साथ ही पुलिस एवं परिवहन विभाग के अधिकारियों को अभियान चलाकर प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों के विरुद्ध कार्यवाही करने के भी कड़े निर्देश दिए हैं। उन्होंने प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के अधिकारियों को भी निर्देशित करते हुए कहा है कि जनपद में जिन औद्योगिक इकाइयों के द्वारा वायु प्रदूषण फैलाने का कार्य किया जा रहा है उनके विरुद्ध अभियान चलाकर तत्काल कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। इसी प्रकार सभी अधिकारियों के द्वारा यह भी सुनिश्चित किया जाए कि जहां जहां पर भी निर्माण कार्य संचालित है वहां पर वायु प्रदूषण को रोकने के उद्देश्य से एनजीटी के नियमों का शत-प्रतिशत रुप से पालन सुनिश्चित कराया जाए ताकि जनपद के वायु प्रदूषण को न्यूनतम स्तर पर लाया जा सके। मुख्य विकास अधिकारी ने समस्त विभागों को निर्देशित किया कि वर्ष 2021 में वृहद वृक्षारोपण अभियान के अंतर्गत वृक्षारोपण किया जाना है जिसके लिए समस्त विभाग स्थल चयनित करते हुए यह सुनिश्चित कर लें कि मार्च 2021 में होने वाले वृक्षारोपण के कार्य की तैयारियां समय पूर्व सुनिश्चित करा ली जाए। उन्होंने आगामी आने वाले पर्व क्रिसमस एवं न्यू ईयर को दृष्टिगत रखते हुए निर्देशित किया कि समस्त उप जिलाधिकारी एवं पुलिस प्रशासन यह सुनिश्चित कराएं की पर्व के दौरान तीव्र व प्रदूषण फैलाने वाले पटाखों पर नियंत्रण बनाए रखना सुनिश्चित करें। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी भू0 अ0 सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारीगण एवं कर्मचारी गण उपस्थित रहे।