424 वीं पुण्य तिथि पर महाराणा प्रताप को दी श्रद्धांजलि


धनसिंह-समीक्षा न्यूज    

त्याग,बलिदान और संघर्ष के प्रतीक थे महाराणा प्रताप-राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य

कोरोना वैक्सीन के लिए भारतीय वैज्ञानिकों पर गर्व-आचार्य महेन्द्र भाई

गाजियाबाद केन्द्रीय आर्य युवक युवक परिषद के तत्वावधान में वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की 424 वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित की गई।कार्यक्रम जूम पर किया गया।

केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य ने कहा कि महाराणा प्रताप भारतीय इतिहास के गौरव व स्वाभिमान के प्रतीक रहे हैं,उन्होंने सारी आयु मुगल शासन के विरुद्ध युद्ध किया घास की रोटी खाई लेकिन गुलामी स्वीकार नहीं की ऐसे विरले पुरूष होते है जो स्वतन्त्रता के लिए सब कुछ न्यौछावर कर देते हैं।सारा जीवन अकबर भय खाता रहा इतना महाराणा का भय था।आज की युवा पीढ़ी को अपने देश के अमर योद्धाओं व क्रांतिकारियों के बारे में पढ़ना चाहिए जिससे ठंडे खून में उबाल आ सके।हिंदुत्व के अमर योद्धा का जीवन आज के संदर्भ में फिर  प्रासांगिक हो गया है।

वैदिक विद्वान आचार्य महेन्द्र भाई ने कोरोना वैक्सीन के निर्माण के लिए भारतीय वैज्ञानिकों को व भारत सरकार को बधाई दी, उन्होंने कहा कि हमें अपने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर व वैज्ञानिकों पर गर्व है।

प्रांतीय महामंत्री प्रवीण आर्य ने कहा कि भारतीय इतिहास वीरता से भरा प्रेरणा देने वाला है।

प्रमुख रूप से नरेंद्र आहूजा विवेक,किरण सहगल,आनन्द प्रकाश आर्य,सौरभ गुप्ता,दीप्ति सपरा,ओम सपरा,वीना वोहरा, देवेन्द्र गुप्ता,रवीन्द्र गुप्ता आदि उपस्थित थे।