विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने 6 करोड़ की लागत से जलनिकासी के लिए बनने वाले नालों के निर्माण कार्य का किया शुभारंभ



धनसिंह—समीक्षा न्यूज

लोनी। शुक्रवार को लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने नववर्ष के अवसर पर लोनी क्षेत्र को बड़ी सौगात देते हुए जलनिकासी हेतु 6 करोड़ से अधिक की लागत से बनने वाले बड़े नालों के निर्माण कार्य का शुभारंभ किया। इस दौरान विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने पाइप लाइन मार्ग पर 1 करोड़ 38 लाख की अधिक राशि से बनने वाले नाले के निर्माण कार्य का शुभारंभ किया। लोनी बॉर्डर क्षेत्र की स्थानीय जनता ने विधायक का ढोल नगाड़ों और मिष्ठान खिलाकर जलनिकासी हेतु स्थायी व्यवस्था कराने के लिए आभार जताया। विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने लोनी में संपूर्ण जलनिकासी और चहुंमुखी विकास की प्रतिबद्धता दोहराते हुए कहा आने वाले समय में लोनी एनसीआर की सर्वश्रेष्ठ विधानसभा होगी।


लोनी बॉर्डर के आधा दर्जन से अधिक वार्ड को जलभराव से मिलेगी मुक्ति, लाखों लोगों को होगा फायदा:

विधायक नंदकिशोर गुर्जर द्वारा पाइप लाइन मार्ग पर डेढ़ करोड़ की लागत से बनने वाले नाले के सौगात की खबर से स्थानीय लोगों, भाजपा नेता पंडित ललित शर्मा और भाजपा कार्यकर्ताओं ने विधायक का ढोल नगाड़ों के साथ स्वागत किया। विधायक ने पाइप लाइन मार्ग पर डेढ़ कऱोड की लागत से बनने वाले नाला निर्माण कार्य और अन्य नाला निर्माण कार्य का विधिवत एकसाथ शुभारंभ किया। विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने इस दौरान उपस्थित जनसमुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि *पाइप लाइन  मार्ग और जलनिकासी की समस्या लाखों और दर्जनों वार्ड के लोगों का जीवन नरकीय बना रही थी। स्थानीय जनता की मांग पर लगातार हमने जलनिगम, दिल्ली जल बोर्ड और अन्य विभागों के साथ मिलकर बैठक की जिसका आज सुखद परिणाम हमारे सामने है। पाइप लाइन मार्ग पर बनने वाले इस नाला से उत्तरांचल कॉलोनी, बन्द फाटक, राहुल गार्डन, तिलकराम कॉलोनी, गायत्री विहार समेत दर्जनों कॉलोनी की जलनिकासी सुनिश्चित होगी। इस नाला निर्माण से लगभग आधा दर्जन पालिका के वार्ड में रहने वाले लाखों लोगों को फायदा पहुंचेगा।


विधायक ने बताया 11 करोड़ की लागत से बनेगा शानदार कांवड़-पाइपलाईन मार्ग, लोनी को बनाएंगे सर्वश्रेष्ठ विधानसभा:

विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने कहा कि हम लोनी को एनसीआर का सर्वश्रेष्ठ विधानसभा बनाकर दम लेंगे लेकिन इसमें सबसे बड़ी बाधा लोनी में मौजूद जलभराव के निकासी के लिए अपर्याप्त सीवर व्यवस्था, बड़े नालों का अभाव और एसटीपी प्लांट का न होना है लेकिन इस समस्या के भी स्थायी समाधान की ओर हमने कदम बढ़ा दिया है। जीडीए ने संपूर्ण जलनिकासी और सीवरेज सिस्टम का लोनी में जाल बिछाने हेतु सर्वें के लिए धन आवंटित कर दिया है। नाला निर्माण के बाद जल्द पाइपलाईन-कांवड़  मार्ग का निर्माण भी शुरू हो जाएगा जो एक सरदर्द बन चुका था क्योंकि यह मार्ग दिल्ली जल बोर्ड के स्वामित्व में आता है। हर साल इस मार्ग से लाखों शिवभक्त पवित्र कांवड़ यात्रा तय करते है साथ ही प्रतिदिन लाखों लोगों के लिए यह मार्ग आवागमन का भी साधन है। इस मार्ग के लिए लंबी लड़ाई लड़नी पड़ी है। हर बार दिल्ली सरकार अनुरोध के बावजूद इसके निर्माण में आनाकानी करती थी और मजबूरी में स्थानीय प्रशासन द्वारा इसमें पेचिंग वर्क हमारे द्वारा कराया जाता था जो कुछ समय के बाद टूट जाते थे। हमने पानी रोकने की धमकी दी,  पिछले दिनों लगातार पत्र लिखे, बैठकें की आज मुझे खुशी है कि आने वाले कुछ दिनों में अब बॉर्डर क्षेत्र के लोगों का आवागमन और शिवभक्तों की कांवड़ यात्रा भी आसान होगी। इस मार्ग के निर्माण हेतु 11 करोड़ 4 लाख 55 हजार की धनराशि हमने स्वीकृत करवाई है।