"आंतरिक शान्ति मार्गदर्शक" पुस्तक का विमोचन संम्पन्न


धनसिंह—समीक्षा न्यूज

आंतरिक सुख समृद्धि के लिये ईश्वर की समीपता आवश्यक-अतुल सहगल

मानव को शांति अंतर्मुखी होने से ही मिलेगी-राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य

गाज़ियाबाद। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के तत्वावधान में साहित्यकार अतुल सहगल की लिखी पुस्तक "गाइड टू इनर वेलनेस" का जूम पर ऑनलाइन विमोचन समारोह संम्पन्न हुआ।यह परिषद का कोरोना काल में 152 वां वेबिनार था।

लेखक अतुल सहगल ने बताया कि यह वेदों के शान्तिकरण के 28 वेदमंत्रों पर आधारित है। इसमें आंतरिक शांति कैसे प्राप्त करे पर सुंदर विवेचना की गई है। रूपा पब्लिकेशन द्वारा प्रकाशित यह पुस्तक हर वर्ग के लिए लाभकारी रहेगी।

केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य ने कहा कि आत्मिक उन्नति के लिये आंतरिक शांति व सकारात्मक सोच आवश्यक है।

समारोह अध्यक्ष पूर्व मेट्रो पोलेटिन मैजिस्ट्रेट ओम सपरा ने कहा कि आज के तनाव पूर्ण वातावरण में पुस्तक वास्तव मे प्रभाव कारी रहेगी।

शिक्षा विद डॉ कृष्ण कुमार गौस्वामी,एडवोकेट डॉ अजय कुमार पांडेय,इग्नू के पूर्व उपकुलपति डॉ शशि भूषण अरोड़ा,विभा श्रीवास्तव (अमेरिका),प्रतिभा सपरा,प्रवीण आर्य(गाजियाबाद),जनक अरोड़ा, अंजू आहूजा,पी सी बख्शी,डॉ मनोज तंवर,रविदेव गुप्ता ने भी अपने विचार रखते हुए शुभकामनाएं प्रदान की।