20 तारीख के बाद करेंगे जेवर टोल प्लाजा पर हजारों की संख्या में महापंचायत: पं. सचिन शर्मा


धनसिंह—समीक्षा न्यूज   

आगरा। बाह तहसील में भारतीय किसान यूनियन अंबावता की किसान महापंचायत में राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी ऋषि पाल अंबावता  ने सरकार के खिलाफ भरी हुंकार राष्ट्रीय अध्यक्ष जी का स्वागत पलवल, मथुरा ,जेवर टोल प्लाजा, फतेहाबाद टोल प्लाजा पर हजारों की संख्या में आए हुए किसानों के द्वारा किया गया 12 मार्च को तहसील बाह आगरा के गांव राटोटी पिनाट में भारतीय किसान यूनियन अंबावता की किसान महापंचायत का आयोजन किया गया। किसान महापंचायत में जाते वक्त राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी ऋषि पाल अंबावता जी  का रास्ते में पलवल,मथुरा जेवर टोल प्लाजा फतेहाबाद टोल प्लाजा पर अनेक किसानों ने फूल मालाओं से अध्यक्ष जी का स्वागत किया जब अध्यक्ष जी किसान महापंचायत में पहुंचे तो हजारों की संख्या में आए हुए किसानों ने अध्यक्ष जी पर पुष्प वर्षा कर के और महामाला पहनाकर स्वागत किया जिला अध्यक्ष आगरा राजेश यादव  ने राष्ट्रीय अध्यक्ष को फूल माला पहनाकर और स्मृति चिन्ह भेंट करके उनका जोरदार स्वागत किया जिला अध्यक्ष राजेश यादव जी ने आए हुए सभी पदाधिकारियों का फूल माला पहनाकर पगड़ी पहनाकर और स्मृति चिन्ह भेंट करके स्वागत किया। आए हुए जनसमूह ने अध्यक्ष जी के नाम से नारे लगाए किसान एकता जिंदाबाद के नारे लगाए गए। महापंचायत में पंजाब हरियाणा राजस्थान ओर पूरे उत्तर प्रदेश से हजारों किसान और पदाधिकारी सम्मिलित हुए।



इस अवसर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी ऋषि पाल अंबावता जी ने बेहद ओजस्वी पूर्ण संबोधन में कहा कि केंद्र सरकार के द्वारा जो यह कानून किसानों के ऊपर जबरदस्ती थोपे हैं यह किसानों को बर्बाद करने के लिए बनाए गए हैं पूरे देश में किसान आज आत्महत्या कर रहा है पिछले 106 दिनों से किसान आंदोलन कर रहे हैं जिसमें 300 से अधिक किसान शहीद हो चुके हैं लेकिन यह गूंगी बहरी और हटधर्मी सरकार किसानों की सुध नहीं ले रही यह जो भी कानून बनाती है वह बहुसंख्यक किसान के खिलाफ ही बनते हैं सरकार को किसान के वोट तो चाहिए लेकिन किसान को लाभ किसी भी तरीके से नहीं पहुंचना चाहिए क्योंकि इन्हें पता है यदि किसान की दशा में सुधार हो गया तो किसान अपनी बुद्धि का इस्तेमाल करके  किसानों के लिए सोचने वाली सरकार को चुनेंगे और हम जैसे भ्रष्टाचारी राजनेताओं की किसानों की ताकत के आगे एक नहीं चलेगी ।

आज पूरे देश में किसानों के लिए जो पेंशन है वह कम से कम ₹2500 प्रति माह होनी चाहिए। जिससे गरीब और पीड़ित किसान का जीवन किसी तरीके से चल सके ।

क्योंकि एक तरफ तो यह सरकार पूजी पतियों के हजारों करोड़ माफ करती है और जो देश का अन्नदाता है उसके हित में कोई कदम नहीं उठाती।

राष्ट्रीय अध्यक्ष जी का भाषण सुनकर किसान सभा में आए किसानों को मैं एक उत्साह और जोश का संचार हुआ राष्ट्रीय अध्यक्ष जी ने जमीन पर बैठकर भोजन किया राष्ट्रीय अध्यक्ष की यह सादगी स्थानीय लोगों को बहुत पसंद आई और स्थानीय लोग राष्ट्रीय अध्यक्ष जी के मुरीद हो गए और उन्होंने भारतीय किसान यूनियन अंबावता के प्रति अपना विश्वास जताया और संगठन से जुड़ने का संकल्प लिया।

इस अवसर पर (प्रदेश अध्यक्ष) हरियाणा अनिल नांदल उर्फ बल्लू प्रधान प्रदेश सचिव हरियाणा दिलबाग हुड्डा जी प्रदेश अध्यक्ष उत्तर प्रदेश पंडित सचिन शर्मा ने अपने  संबोधन में कानूनों के विषय में बताया और किसानों को एकजुट होने का आह्वान किया।

इस अवसर पर मंच का संचालन कर रहे ठाकुर मुकेश सोलंकी जी ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि पंजाब से चला यह छोटा सा किसान आंदोलन पूरे देश में आज जन आंदोलन बन चुका है और यदि यह सरकार इन कानूनों को वापस नहीं लेती तो सरकार के इरादे को समझते हुए किसान  किसी भी तरीके से कानून वापस होने तक अपने आंदोलन से पीछे नहीं हटेगा।

इस अवसर पर (प्रदेश अध्यक्ष) पं. सचिन शर्मा और प्रवक्ता ठाकुर मुकेश सोलंकी  ने जिला अध्यक्ष फिरोजाबाद राहुल यादव जी को और जिला अध्यक्ष मैनपुरी अनिल कुमार यादव जी को नियुक्ति पत्र देकर उनकी घोषणा की और उन्हें नवनियुक्त जिलाध्यक्ष मनोनीत किए जाने पर शुभकामनाएं दी।

इस अवसर पर किसान महापंचायत में अनेक शीर्ष पदाधिकारी राष्ट्रीय महामंत्री रामपाल अंबावता राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनिल नेताजी राष्ट्रीय महासचिव प्रवीण शर्मा प्रदेश महासचिव चौधरी पवन तेवतिया  मेरठ मंडल अध्यक्ष नरेश चप्परगढ़  जिला अध्यक्ष गाजियाबाद अमित कसाना नोएडा महानगर अध्यक्ष अनिकेत देवधार  जिला अध्यक्ष इटावा संजय यादव गौरव यादव जिला अध्यक्ष बुलंदशहर बिन्नू आधाना जिला अध्यक्ष गौतम बुध नगर प्रभु नागर जिलाध्यक्ष पलवल ऋषि पाल चौहान सुरेंद्र कसाना नरेंद्र प्रधान जी पं. योगेश शर्मा कृष्ण भाटी  चौधरी रविंदर सिंह ठाकुर राकेश सिंह किसान चाचा ब्रह्म सिंह जिला उपाध्यक्ष बुलंदशहर संजू अधाना नवीन कौशिक जितेंद्र गुर्जर जी जितेंद्र कसाना जी वैदिक जी अवस्थी जी विनोद शुक्ला विनय सैनी और हजारों किसान मातृशक्ति उपस्थित रहे।