सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के नवनिर्वाचित अध्यक्ष विकास सिंह को संत महासभा ने किया सम्मानित

 


धनसिंह—समीक्षा न्यूज

गाजियाबाद। सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के नवनिर्वाचित अध्यक्ष श्री विकास सिंह को संत महासभा ने किया सम्मान  राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि जी महाराज के अध्यक्षता में सुप्रीम कोर्ट के जाने-माने वरिष्ठ अधिवक्ता श्री विकास सिंह जी को सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन का भारी बहुमत से अध्यक्ष निर्वाचित होने पर संत महासभा के द्वारा चंदन की तिलक पगड़ी साल माला पहनाकर मंगलाचरण एवं मंत्रोचार के साथ पुष्पगुच्छ प्रदान कर तथा फूलों की वर्षा कर संतो के द्वारा श्री विकास सिंह जी का भव्य स्वागत किया गया तथा लड्डू मिठाई का भोग लगाकर सबको बांटकर खुशी मनाया गया इस अवसर पर संतो द्वारा नवनिर्वाचित अध्यक्ष के स्वास्थ्य उज्जवल भविष्य की मंगल कामना की गई संवाददाता द्वारा पूछे गए प्रश्नों के उत्तर देते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि महाराज ने कहा कि विकास सिंह जी एक सादगी पसंद बहुत ही  बेहतरीन इंसान है जो मानवतावादी एवं न्याय के प्रबल पक्षधर है जो हमेशा अन्याय के खिलाफ अपनी आवाज को बुलंद करते हैं जैसे सुशांत सिंह केस उदाहरण है स्वामी जी ने आगे बताया की आज पूरे विश्व के हिंदू सनातन राम मंदिर के निर्णय आने पर खुश है लेकिन इस खुशी के कारण में एक कारण श्री विकास सिंह का नाम मुख्य है क्योंकि श्री राम मंदिर के पक्ष में श्री विकास सिंह जी ने (अपील नंबर 26 36 )में माननीय सर्वोच्च न्यायालय में खड़े होकर श्री राम मंदिर के पक्ष में निर्णय दिला कर  सैकड़ों वर्षो से श्री राम मंदिर पर हो रहे विवाद को विराम लगाते हुए भव्य राम मंदिर के मार्ग को प्रशस्त कराते हुए तमाम विश्व के सनातन हिंदुओं को खुशी प्रदान की स्वामी जी ने आगे बताया की यह बहुत कम लोग जानते हैं की श्री विकास सिंह जी इस राम मंदिर के केस निर्णय आने के बाद जब हमारी तरफ से बिहार धार्मिक न्यास बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष श्री किशोर कुणाल जी श्री विकास सिंह जी को फीस देने हेतु चेक लेकर गए तो विकास सिंह जी ने नम्रता पूर्वक हाथ जोड़कर चेक लेने से मना कर दिया श्री राम मंदिर का केस श्री विकास सिंह जी ने निशुल्क लड़ा जो एक सच्चे श्री राम भक्त होने का प्रमाण है स्वामी जी ने कहा कि श्री राम मंदिर विवाद के समाधान में  श्री विकास सिंह जी तथा ऐसे त्यागी तपस्वी अधिवक्ताओं के नाम इतिहास के स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा जिन्होंने इस विवाद को विराम लगाने हेतु  निशुल्क सेवाएं देने का काम किया  स्वामी जी ने आगे बताया कि श्री विकास सिंह जी को सनातन धर्म के प्रति निष्ठा समर्पण तथा श्री राम मंदिर निर्णय में सेवाओं को देखते हुए संत महासभा द्वारा सनातन रत्न सम्मान से सम्मानित किया गया जल्द ही श्री विकास सिंह जी के साथ अयोध्या श्री राम लला जन्मभूमि के दर्शन का कार्यक्रम बनाया जाएगा अंत में स्वामी जी ने कहा कि श्री विकास सिंह जैसे  तेजस्वी विद्वान और अपने काम के प्रति निष्ठावान सच्चे सनातनी राष्ट्रभक्त मानवतावादी का माननीय सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष होने से न सिर्फ देश के अधिवक्ताओं को एक सक्षम नेतृत्व प्रदान हुआ है साथ ही अध्यक्ष पद की गरिमा को चार चांद लगा है और आने वाले कल में इनके अध्यक्षीय काल में न्याय को एक दिशा मिलेगी तथा इनका कार्यकाल इतिहास के स्वर्णिम अक्षरों में अंकित होगा ऐसी हमें पूर्ण विश्वास है अंत में श्री विकास सिंह जी ने सभी संतो का आभार व्यक्त किया अखिल भारत  हिन्दू  महासभा