लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने किया सिरोली-भगोट में विशाल ईनामी दंगल का शुभारंभ।



धनसिंह—समीक्षा न्यूज          

लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने किया सिरोली-भगोट में विशाल ईनामी दंगल का शुभारंभ, कहा खेलों ने बदली है गांव-देहात की तस्वीर

लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने भगोट-सिरौली में आयोजित विशाल ईनामी दंगल का शुभारंभ किया। नामचीन पहलवानों के बीच आयोजित इस दंगल में लीलू प्रमुख, मनुपाल बंसल, काशीराम प्रधान, सचिन पहलवान, प्रताप पहलवान, यादराम, संदीप पहलवान, भीम पहलवान, राजू पहलवान, चौ. नत्थन सिंह सहित सैकड़ों की संख्या में कुश्ती प्रेमी और प्रदेश भर से पहलवानी में हाथ आजमाने आए खिलाड़ियों की उपस्थिति रही। 

‘‘मौजूदा दौर में खेलों ने बदल दी है गांव-देहात की तस्वीर, सरकार दे रही है खिलाड़ियों का साथ’’

दंगल में पहलवानों ने हैरान करने वाले दांव-पेंच से दंगल प्रेमियों से खूब तालियां बटोरी। इस दौरान आयोजक लीलू प्रमुख अखाड़ा के युवा पहलवानों द्वारा  विधायक नंदकिशोर गुर्जर का  पगड़ी पहनाकर सम्मान किया गया। विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने खिलाड़ियों के बीच निर्णायक लाखों रूपए के ईनामी मुकाबले के लिए हाथ मिलवाया। खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाते हुए विधायक ने कहा कि एक समय में लुप्तप्राय खेलों में शामिल देश का परंपरागत खेल दंगल आज विश्वभर में सुर्खियां बटोर रही है। कुश्ती कल तक गांव-देहात का खेल माना जाता था लेकिन आज इसकी पहचान अंतर्राष्ट्रीय हो चुकी है। हमारे गांव की धूल से निकलने वाले लाल ओलंपिक एवं काॅमनवेल्थ खेल में सोना और चांदी के मेडल ला रहें है। मौजूदा केंद्र एवं प्रदेश सरकार भी खेल और खिलाड़ियों को भरपूर प्रोत्साहन दे रही है। खेलों इंडिया जैसे कार्यक्रम से भविष्य के लिए गोल्ड मेडलिस्ट तैयार किए जा रहे है। खिलाड़ियों को पहले खेल कोटे से सरकारी नौकरी एवं पढ़ाई के लिए चक्कर लगाने पढ़ते थे लेकिन आज उनका सम्मान प्रदेश और केंद्र सरकार कर रही है।  विश्वपटल पर लोनी का नाम रौशन करने वाले मेजर ध्यानचंद अवार्ड से सम्मानित और हाल में प्रदेश सरकार द्वारा लक्ष्मण अवार्ड से सम्मानित किए गए राजकुमार बैसला जी और लीलू प्रमुख जी ने कुश्ती की परंपरा को पश्चिमी यूपी समेत देशभर में पुनर्जीवित किया है। आज इन्होंने देश को कई होनहार प्रशिक्षित पहलवान भी दिए है। कल तक जिन गांवों को कोई जानता नहीं था आज उन गांव के पहलवानों ने अपने हुनर से गांव, प्रदेश और देश का नाम रौशन किया है। आने वाले समय में मैं दावे के साथ कहता हूं कि हम ओलंपिक जैसे खेल में भी इन्हीं गांव-देहात के खिलाड़ियों के बलबूते शीर्ष देशों के पायदान में पहुंचेंगे। खिलाड़ियों को पूरी सुविधा मिलें इसके लिए हम प्रयासरत है बजट सत्र के दौरान लोनी के भनेड़ा खुर्द में स्वीकृत बहुउद्देश्यीय स्टेडियम के लिए हमने फंड जारी करने की बात सदन में उठाई है जल्द स्टेडियम के लिए धन की स्वीकृति हो जाएगी जिससे लोनी और आसपास के क्षेत्रों के खिलाड़ियों को दिल्ली या कई किलोमीटर दूर नहीं जाना पड़ेगा। पहली बार लोनी के इतिहास में खिलाड़ियों के नाम पर सड़क का निर्माण किया गया। यह खेल क्षेत्रों में आ रहे बदलाव के सूचक है।