कोरोना से लड़ाई में निभा रहे है अहम भूमिका: डाॅ विभाष राजपूत

 


धनसिंह—समीक्षा न्यूज 

 

- पिछले एक वर्ष से दिन-रात कर रहे है लोगों की सेवा, लोगों से कर रहे है टीका लगवाने की अपील 


- कोरोना काल में तीन महीने तक दिन-रात आॅफिस से ही पूरी निष्ठा और जिम्मेदारी से अपने कर्तव्यों को निभाया 


बागपत। सीएचसी अधीक्षक डाॅ विभाष राजपूत का नाम बागपत के उन लोगों में प्रमुखता से शामिल है, जिन्होंने कोरोना महामारी के संकटकाल में मानवता की रक्षा के लिये अपने घर-परिवार तक को त्याग कर लोगों की रक्षा के लिये पूरी निष्ठा और जिम्मेदारियों के साथ अपने फर्ज को बखूबी निभाया। 

पिछले एक वर्ष में कोरोना महामारी के दौरान एक समय ऐसा आया जब डाॅ विभाष राजपूत लगभग तीन महीनों तक आॅफिस में ही रहे। इस दौरान उन्होंने अपने घर की तरफ मुडकर भी नहीं देखा। उन्होंने सीएचसी बागपत में काम करने वाले हर शख्स को महामारी से लड़ने के लिये जागरूक किया और कोरोना महामारी के दौरान कोरोना संक्रमित गलियों, मौहल्लों आदि में स्टाॅफ के साथ स्वयं भ्रमण करके वहाॅं पर रहने वाले लोगों को जाॅंच करवाने के लिये प्रेरित किया और संक्रमित व्यक्तियों को भी जागरूक कर उनको ईलाज के लिये कोविड़ सेन्टरों तक पहुॅचाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की। कोरोना से जंग करते हुए जब बागपत सीएचसी के लोग भी संक्रमित होने लगे तब भी इस मुश्किल दौर में डाॅ विभाष राजपूत के नेतृत्व में कोई भी विचलित नही हुआ और सभी ने एक-दूसरे को जागरूक कर एक-दूसरे का साथ दिया और कोरोना पर विजय प्राप्त की। डाॅ विभाष राजपूत के द्वारा किये जा रहे प्रयासों और जज्बे को देखते हुए हर धर्म, सम्प्रदाय, राजनैतिक और सामाजिक संस्थाओं ने उनका पूरा साथ दिया और इसी का परिणाम रहा कि बागपत सीएचसी के अन्तर्गत आना वाला पूरा क्षेत्र कोरोना मुक्त हो गया। डाॅ विभाष राजपूत ने क्षेत्र के लोगों से अपील की है कि वह कोरोना के खिलाफ जंग में लापरवाही ना बरतें और कोरोना से बचाव के सभी निर्देशों का पालन करें। कोरोना से बचाव को कोरोना का टीका जरूर लगवायें। किसी भी प्रकार की अफवाहों पर ध्यान ना दे।