शहीदों की चिताओं पर जुड़ेंगे हर बरस मेले, वतन पर मरने वालों का यही बाकी निशां होगा



धनसिंह—समीक्षा न्यूज  

गाजियाबाद। राष्ट्रीय व्यापार मंडल महानगर अध्यक्ष संजय गोयल के नेतृत्व में घंटाघर स्थित शहीद भगत सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर प्रतिमा के समक्ष 2 मिनट का मौन धारण करके शहीद दिवस पर अपनी श्रद्धांजलि अर्पित कर देश की आजादी के लिए हंसते हंसते फांसी के फंदे को चूमकर अपने प्राणों का बलिदान करने वाले अमर शहीद भगत सिंह, सुखदेव राजगुरु को याद किया। इस अवसर पर व्यापारी नेता पंडित अशोक भारतीय ने बताया कि 23 मार्च 1931 को लगभग 23 वर्ष की आयु वाले शहीद भगत सिंह सुखदेव और राजगुरु तीनों युवाओं को फांसी दे दी गई थी ।युवा क्रांतिकारियों के बलिदान को याद करने के लिए पूरे देश का हर वर्ग इनकी पुण्यतिथि को याद कर अपनी श्रद्धांजलि देता है। इसी कड़ी में हम सभी व्यापारी आज यहां एकत्रित हुए हैं। मेरठ मंडल महामंत्री प्रदीप चौधरी ने कहा ये तीनों महान क्रांतिकारी देश के युवाओं के प्रेरणा स्रोत हैं। इनका बलिदान ही क्रांति का आगाज़ और स्वतंत्रता की नीव का पत्थर बना। हम व्यापारियों को राजनीति से ऊपर उठकर देश भक्ति से ओत प्रोत होते हुए देश के लिए मर मिटे शहीदों के सम्मान में एक जुट होकर तन मन धन से समर्पित होकर इनके नामकरण व सौंदर्यकरण हेतु संकल्पबद्ध होना होगा। राष्ट्रीय व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष बालकिशन गुप्ता ने शहीदों की कुर्बानी से मिली आजादी को सही सम्मान देने हेतु सभी से देश हित में कार्य करने का आह्वान किया ।इस अवसर पर भारत माता की जय,देश के अमर शहीदों की जय के उदघोष के साथ समाज सेवी संदीप त्यागी, राष्ट्रीय व्यापार मंडल के शहर उपाध्यक्ष संजय कांत शर्मा, जिला महामंत्री राजेश वर्मा, अमित वर्मा, राकेश गर्ग, प्रदीप पाठक,जितेंद्र नागर,वीरेन्द्र कंडेरा, स्वेता शर्मा,डॉ. गौरव सैनी, उमेश पाण्डेय, अक्षित वर्मा, हंस राजपूत, उमेश कंडेरा, श्याम सुंदर सिंह, अनूप सिंह आदि उपस्थित रहे।