बजट सेशन के दौरान लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने उठाया लोनी के सर्वांगिण विकास का मुद्दा, लोनी के लिए मांगा विशेष पैकेज

 




धनसिंह—समीक्षा न्यूज 

लोनी। माॅडल स्कूल और आईटीआई में पद सृजन,भनेड़ा खुर्द बहुउद्देशीय स्टेडियम और बेहटा नहर के सौंदर्यीकरण के लिए फंड रिलीज करने की रखी मांग, लोनी में मेट्रो विस्तार, मेडिकल काॅलेज और केंद्रीय विद्यालय स्थापना की उठाई मांग

उत्तर प्रदेश बजट सत्र के दौरान लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने लगातार क्षेत्र के विभिन्न विकास कार्यो को लेकर संबंधित कैबिनेट मंत्री और अधिकारियों से मुलाकात कर रहे है। इस क्रम में  विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने बुधवार को देर रात तक  चले विधानसभा सदन में लोनी के सर्वांगीण विकास क्षेत्र में मेडिकल काॅलेज, मेट्रो विस्तार, माॅडल स्कूलों और आईटीआई में सत्र के संचालन,भनेड़ा खुर्द बहुउद्देश्यीय स्टेडियम और बेहटा नहर सौंदर्यीकरण के लिए तैयार किये गए स्वीकृत डीपीआर के लिए राशि जारी करने की मांग रखी। विधानसभा अध्यक्ष ने विधायक द्वारा उठाएं गए विषयों को सम्बंधित विभाग को निस्तारण के लिए आदेशित किया।



विधायक ने फिर उठाई लोनी को परशुराम नगर और नगर निगम बनाने की मांग, कहा दिया जाए विशेष पैकेजः

विधायक नंदकिशोर गुर्जर लगातार लोनी का नाम बदलने के लिए प्रयासरत है। मुख्यमंत्री के मंच से लेकर सदन तक लागातार लोनी का नाम बदलने के लिए आवास उठाते रहे है। इसी क्रम में विधायक ने सदन में पुनः लोनी के पौराणिक महत्व की चर्चा करते हुए कहा कि लोनी का नाम लवणासुर राक्षस के नाम पर है जिसका वध भगवान परशुराम ने भगवान राम से कहकर शत्रुघ्न महाराज से करवाया था। यह भूमि भगवान परशुराम की कर्म और तपोभूमि रही है। इसलिए इसके अध्यात्मिक और पौराणिक स्वरूप को ध्यान में रखते हुए इसका नाम बदला जाना आवश्यक है। वहीं विधायक ने लोनी नगर पालिका को नगर निगम बनाने की भी मांग रखते हुए कहा कि दिल्ली से 0 कदम की दूरी पर स्थित लोनी की आबादी 18 लाख से अधिक है लेकिन 2017 के बाद से हजारों करोड़ के विकास कार्यो के बावजूद विकास की अभी भी दरकार है क्योंकि पूर्व के जनप्रतिनिधियों ने कभी लोनी के विकास की तरफ ध्यान ही नहीं दिया इसलिए यूपी के प्रवेश द्वारा लोनी को नगर निगम बनाने के साथ-साथ एक विशेष पैकेज की जरूरत है जिससे लोनी को एक आदर्श विधानसभा बनाया जा सकें।   



मुस्तफाबाद और प्रेम नगर माॅडल काॅलेज और आईटीआई के लिए पद सृजन की विधायक ने रखी मांगः

मुस्तफाबाद और प्रेम नगर में निर्मित माॅडल काॅलेज और गढ़ी शब्लू में तैयार हो चुके तकनीकी शिक्षण संस्थान में अध्यापकों के पद सृजन नहीं होने के कारण शिक्षा सत्र शुरू नहीं होने की बात सदन में रखते हुए विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने कहा कि शिक्षा में लोनी की स्थिति 2017 से पहले काफी दयनीय थी लेकिन देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी द्वारा उद्घाटन किए जाने के बावजूद शिक्षकों के पद सृजन नहीं होने के कारण तैयार हो चुके माॅडल विद्यालय में शिक्षा सत्र प्रारंभ नहीं हो सका है और छात्र दिल्ली एवं निजी विद्यालयों में पढ़ने को मजबूर है। इसलिए यथाशीघ्र दोनों माॅडल स्कूल और आईटीआई में पद सृजन कर शिक्षा सत्र शुरू करवाया जाए।  



मेट्रो विस्तार, केंद्रीय विद्यालय और मेडिकल काॅलेज की विधायक ने उठाई आवाज, लोनी के सर्वांगीण विकास के लिए बताया जरूरी

लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने लोनी मेट्रो का मंडोला तक विस्तार को आवश्यक बताते हुए कहा कि यह कार्य लोनी के लिए मील का पत्थर साबित हो सकता है क्योंकि लोनी में मेट्रो आ चुकी है लेकिन उसका विस्तार लगातार प्रयास के बावजूद रूका हुआ है। ट्रोनिका सिटी औद्योगिक एरिया को इससे फायदा पहुंचेगा और क्षेत्र की सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था भी मजबूत होगी। वहीं विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने कहा कि 18 लाख की आबादी के बावजूद लोनी में केंद्रीय विद्यालय और मेडिकल काॅलेज नहीं है। स्थानीय प्रशासन के साथ इस विषय को उठाया गया है प्रस्ताव भी दिया जा चुका है लेकिन इस दिशा में तेजी लाने के लिए आवश्यक कार्यवाही के लिए आदेशित किया जाए। 


बेहटा नहर के सौंदर्यीकरण और भनेड़ा खुर्द में प्रस्तावित स्टेडियम के निर्माण के लिए जारी किया जाए फंडः

विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने कहा कि दिल्ली से यूपी में दाखिल होते समय गंदे नाले में तब्दील हो चुकी बेहटा नहर के दोनों तरफ नगरपालिका की दर्जनों कॉलोनी स्थित है जिसमें 5 लाख से अधिक की आबादी रहती है लेकिन नहर के नॉए में तब्दील होने से लोगों का जीवन नरकीय बनता जा रहा है और कई बार जानलेवा दुर्घटना भी घट चुकी है। नहर के पक्कीकरण, सौंदर्यीकरण और फेसिंग के लिए स्वीकृत हो चुके डीपीआर और भनेड़ा खुर्द में पास हो चुके बहुउद्देश्यीय स्टेडियम के लिए यथाशीघ्र फंड जारी किया जाए।


‘‘लोकतंत्र में आंदोलन का अर्थ हाईवे को ब्लाॅक कर तिरंगे और देश का अपमान कभी नहीं हो सकता’’:

लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने सदन में किसान आंदोलन पर अपनी बात रखते हुए कहा कि आजाद भारत में पहली बार देश की अखंडता को खंडित करने का प्रयास किया गया। किसानों के नाम पर आन्दोलनजीवीयों द्वारा खालिस्तानियों से गठजोड़ कर आजादी के प्रतीक लालकिला और तिरंगे का अपमान किया गया उसकी अस्मिता को रौंदा गया। आज यह लोग बेनकाब हो चुके है लोकतंत्र का अर्थ हाईवे को ब्लाॅक कर देश का अपमान करना कभी नहीं हो सकता। साथ ही विधायक ने अपनी बात को पुनः दोहराते हुए कहा कि किसान आंदोलन के दौरान हम गाजीपुर बाॅर्डर नहीं गए थे लेकिन राजनीतिक षड्यंत्र के तहत पार्टी को विपक्षियों द्वारा बदनाम करने की कोशिश की गई।