आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने मनाई बाबा साहब की 130 वीं जयंती

 


धनसिंह—समीक्षा न्यूज 

लोनी। बुधवार को आम आदमी पार्टी कार्यकतार्ओं ने लोनी विधानसभा कार्यालय पर भारत रत्न संविधान निमार्ता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर 130 वीं जयंती हर्षोल्लास से मनाई। इस मौके पर एससी एसटी लोनी विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र चावरिया ने बाबा साहब की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि डॉ. भीमराव अंबेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को महाराष्ट्र के एक महार परिवार में हुआ। इनका बचपन ऐसी सामाजिक, आर्थिक दशाओं में बीता जहां दलितों को निम्न स्थान प्राप्त था। दलितों के बच्चे पाठशाला में बैठने के लिए स्वयं ही टाट-पट्टी लेकर जाते थे। वे अन्य उच्च जाति के बच्चों के साथ नहीं बैठ सकते थे। डॉ. अम्बेडकर के मन पर इस छुआछूत का व्यापक असर पड़ा जो बाद में विस्फोटक रूप में सामने आया। स्वतंत्र भारत के पहले कानून और न्याय मंत्री के रूप में मान्यता प्राप्त, भारतीय गणराज्य की संपूर्ण अवधारणा के निर्माण में अम्बेडकर जी का योगदान सर्वोपरि है। वही लोनी ब्लॉक चुनाव प्रभारी ओम अग्रवाल ने कहा कि बाबा भीमराव अंबेडकर राजतंत्र की परिभाषा से अच्छी तरह वाकिफ थे। उन्होंने अपने युवावस्था में छुआछूत एवं जाति प्रथा को नजदीकी से देखा था। इसलिए स्वतंत्र भारत के संविधान में उन्होंने समानता के अधिकार कोअमलीजामा पहनाने का कार्य किया और छुआछूत एवं जाति प्रथा को खत्म करने का संदेश संविधान में वर्णित किया। उन्होंने कहा कि बाबा साहब की वजह से आम एवं खास एवं सभी जातियों में आरक्षण का मंत्र राजनीतिक भागीदारी में सभी को प्रदान करने का अवसर संविधान में दिया गया है। इस मौके पर मुख्य रूप से रेखा बेनीवाल, डॉ सचिन शर्मा वसीम भारती, आजाद अंसारी, अरुण गुप्ता, वसी अहमद, किशन कुमार, विजय सिंह, राशिद सहित दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद रहे।