हवा हवाई दावों और वादों का धरातल पर असर नकारात्मक क्यूँ है? राकेश प्रमुख



धनसिंह-समीक्षा न्यूज 

 गाजियाबाद समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ महानगर उपाध्यक्ष राकेश प्रमुख ने कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में राज्य सरकार की असफल नीतियों की कठोर आलोचना और भत्र्सना करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी से स्थितियां भयावहता की गम्भीरतम स्थिति तक पहुँच गयी हैं। राजधानी लखनऊ चीन का वुहान बन चुका है, यहाँ के अधिकांश मोहल्ले मौत के मातम में डूबे हुए हैं। सरकार और उसकी व्यवस्था पंगुता के शिकार हैं, उसकी अक्षमता और अनुभवहीनता ने प्रदेश की जनता को घोर संकट में डाल दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री से प्रश्न पूछते हुए कहा कि आखिर हो रही मौतों के लिये कौन जिम्मेदार है और संक्रमण से मौत के तांडव को रोकने की कोई स्पष्ट कार्ययोजना क्यूँ नही है। हवा हवाई दावों और वादों का धरातल पर असर नकारात्मक क्यूँ है? उन्होंने कहा कि सरकार में अंशमात्र भी नैतिक बल हो तो संक्रमण के व्यापक फैलाव और मौतों की जिम्मेदारी स्वयं आगे आकर ले और यह बताये की किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के वॉइस चांसलर संक्रमणकाल में कहा है या उन्हें सरकार ने जबरन छुट्टी पर भेज दिया है?