क्षेत्र के लोगो के लिए पार्षद यशपाल पहलवान संकट मोचन बने





 धनसिंह-समीक्षा न्यूज  

साहिबाबाद। कोरोना जैसी महामारी में जब अपने साथ छोड़ कर चले गए ऐसे समय में यशपाल पहलवान मानवता के नाते अपने क्षेत्र के एक बेसहारा के साथ खड़े मिले। डीएलएफ कॉलोनी के व्यापारी मुकेश अग्रवाल की कोरोना से हुई मृत्यु के बाद हिंडन शमशान घाट पर उनके पार्थिक शरीर का अंतिम संस्कार करने में हो रही देरी के चलते व्यापार मंडल अध्यक्ष गौरव श्रीवास्तव के निवेदन पर यशपाल पहलवान निगम पार्षद एवं भोपुरा मंडल मंत्री अरविंद राणा शीघ्र ही रात को हिंडन श्मशान घाट पहुंचे और अपनी निगरानी में मुकेश अग्रवाल का अंतिम संस्कार करवाया। व्यापार मंडल अध्यक्ष गौरव श्रीवास्तव ने बताया कि मुकेश अग्रवाल का स्वर्गवास हिसार की एक अस्पताल में हो गया था ! उनके साथ उनकी धर्मपत्नी श्रीमती नीलू अग्रवाल अकेली थी। रात करीब 10 बजे वह अपने पति के पार्थिव शरीर को लेकर हिंडन शमशान घाट पहुंची थी परंतु वहां पर हो रही देरी के चलते उनकी कोई नहीं सुन रहा था। ऐसे में क्षेत्र के निगम पार्षद यशपाल पहलवान से गौरव श्रीवास्तव (व्यापार मंडल अध्यक्ष) ने संपर्क किया और उनको अवगत कराया ! जानकारी मिलते ही पार्षद यशपाल पहलवान तुरंत ही श्मशान घाट के लिए रवाना हो गए और वहां पहुंचकर अपनी निगरानी में मुकेश अग्रवाल का पूरे रीति-रिवाज के साथ अंतिम संस्कार किया। इस कोरोना जैसी महामारी में एक बार फिर निगम पार्षद ने साबित कर दिया की वह अपनी वार्ड की जनता के लिए दिन हो या रात सदैव तैयार रहते हैं।