जरूरत पडने पर ही अस्पताल में भर्ती होंरू: हिमांशु लव

 


धनसिंह-समीक्षा न्यूज 

गाजियाबाद। वार्ड 39 के पार्षद हिमांशु लव ने कहा कि कोरोना के ऐसे मरीज जो घर पर रहकर ही कोरोना को मात दे सकते हैंए वे अस्पताल में भर्ती ना हों। उनके ऐसा करने से अस्पतालों में बेड की कमी हो रही हैए जिससे गंभीर मरीजों को इलाज नहीं मिल पा रहा है। पार्षद हिमांशु लव ने कहा कि अस्पतालों में बेड की कमी क्यों हैए यह जानने के लिए उन्होंने कुछ अस्पतालों से बात की तो पता चला कि कि कोरोना के जो मरीज घर पर रहकर ठीक हो सकते हैंए वे भी अस्पतालों में भतीर्हो गए हैं। कुछ लोग जो अस्पतालों का खर्चा वहन कर सकते हैं और उनके घर में एक से अधिक कॉविड 19 के मरीज हैं तो वे अस्पताल में भर्ती हैं। इसी कारण अस्पतालों में बेड की कमी है। जरूरतमंद मरीज और जिनको वेंटीलेटर अथवा आईसीयू की आवश्यकता है, वे अस्पताल में भर्ती होने से वंचित रह जाते हैं। ऐसी स्थिति में कई मरीजों की इलाज ना मिलने के कारण मृत्यु हो गई हैए जिसका दोष सरकार व अस्पतालों पर डाला जा रहा है। यदि समाज के सभी लोग जरूरत पडने पर ही अस्पताल जाएं तो सभी को बेडए दवाइयां व आॅक्सीजन प्राप्त हो सकती है। उन्होंने सभी लोगों से अपील कि बहुत अधिक आवश्यकता पड़ने पर ही अस्पतालों में भर्ती हों अन्यथा घर पर रहकर एक कमरे में बंद होकर ही अपना इलाज करें। यह बीमारी मास्कए सैनिटाइजर और एक दूसरे से दूरी बनाने पर ठीक हो सकती है।