फरिश्ता बनकर सामने आए ललित जायसवाल


धनसिंह—समीक्षा न्यूज

गाजियाबाद। सिविल डिफैंस के चीफ वार्डन ललित जायसवालसमाज सेवा में हमेशा आगे रहते हैं। आज कोरोना काल में जब लोगों को कोरोना से मरने वालों अपने परिजनों के शव को अस्पताल से लाने व अंतिम संस्कार हेतु ले जाने के लिए एंबुलैंस तक नहीं मिल पा रही है तो ललित जायसवाल उनके लिए फरिश्ता बनकर सामने आए हैं। उन्होंने ऐसे परिवार जिन्होंने कोरोना में अपने किसी सदस्य को खो दिया है और वे ना तो उनका शव ला पा रहे हैं और ना उनका अंतिम संस्कार करा पा रहे हैं, उनके लिए निशुल्क सेवा शुरू की है। यह निशुल्क सेवा सिविल डिफेंस व श्री धार्मिक रामलीला समिति कविनगर द्वारा संयुक्त रूप से शुरू की गई है। इसके लिए हेल्पलाइन नंबर भी दिए गए हैं। सिविल डिफेंस के डिप्टी चीफ वार्डन अनिल अग्रवाल से मोबाइल नंबर 9910600628, सिविल डिफेंस के चीफ वार्डन ललित जायसवाल के प्रमुख सहयोगी दिवाकर सिंघल के मोबाइल नंबर 9971361212, दिव्यांशु सिंघल के मोबाइल नंबर 9910612063 के अलावा खुद चीफ वार्डन ललित जायसवाल के मोबाइल नंबर 9999114642 पर संपर्क किया जा सकता है। इन नंबरों पर फोन करने पर संस्था का वाहन व कार्यकर्ता शव को लेने घर व अस्पताल आ जाएगा। जरूरत पडने पर शव को शमशान घाट तक भी पहुंचाया जाएगा। यह निशुल्क सुविधा गाजियाबाद शहर के लिए ही है। आज कोरोना काल में जब बहुत से लोग आपदा को अवसर समझकर कालाबाजारी करने व लोगों को लूटने का काम कर रहे हैं, वहीं सिविल डिफेंस के चीफ वार्डन ललित जायसवाल ने यह निशुल्क सेवा शुरू कर मानवता की ऐसी मिसाल कायम की है, जो देश भर के लोगों को प्रेरित करेगी।