केन्द्रीय आर्य युवक परिषद की राष्ट्रीय समिति की बैठक सम्पन्न




धनसिंह—समीक्षा न्यूूज

गाजियाबाद। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद की राष्ट्रीय कार्य समिति की बैठक ऑनलाइन गूगल पर सम्पन्न हुई। ग्रीष्मकालीन अवकाश में कुछ नए रचनात्मक कार्य करने का निश्चय हुआ। मुख्य अतिथि सत्यभूषण आर्य (जिला व सत्र न्यायाधीश, समस्तीपुर) ने कहा कि आज सबसे बड़ी आवश्यकता अकेलपन की है, व्यक्ति तनावग्रस्त है, नकारात्मक वातावरण बन रहा है जो एक गंभीर समस्या है अतः प्रत्येक व्यक्ति यह निश्चय करे कि वह अपने 5 मित्रों को फ़ोन करेगा और सकारात्मक ऊर्जा का संचार करेगा।कई व्यक्ति आत्म हत्या कर रहे हैं ये तनाव के कारण है हमें गीत संगीत, योग, वेबिनारो के माध्यम से सबको जोड़ने का काम करना है तभी हालात सुधर सकते है, हम दैनिक यज्ञ कर ईश्वर की उपासना करें वॉयरस भी नष्ट होगा और परमात्मा रोगों से लड़ने की शक्ति भी देगा। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य ने कहा कि परिषद प्रतिवर्ष की भांति युवक/युवतियों के ऑनलाइन शिविर, भाषण, वादविवाद,संगीत व प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताओं का आयोजन करेगी, कार्य बंद नहीं होगा बस स्वरूप बदल जायेगा। उन्होंने कहा कि युवा पीढ़ी को वैदिक विचार धारा व महर्षि दयानंद जी के आदर्शों से जोड़ने का कार्य तीव्र गति से बढ़ता रहेगा। महामंत्री महेन्द्र भाई ने सभा का संचालन किया। प्रमुख रूप से उत्तर प्रदेश प्रांतीय अध्यक्ष आनन्द प्रकाश आर्य (हापुड़), महामंत्री प्रवीण आर्य (गाजियाबाद), सौरभ गुप्ता, सुरेश आर्य, दुर्गेश आर्य, धर्मपाल आर्य, देवेन्द्र भगत, ईश आर्य(हिसार), स्वतंत्र कुकरेजा(करनाल), वेदव्रत बेहरा(उड़ीसा), यशोवीर आर्य, उर्मिला आर्य, डॉ सुषमा आर्य, दीप्ति सपरा(गुरुग्राम), कमलेश हसीजा, के एल राणा, कर्नल अनिल आहूजा(लखनऊ), अरुण आर्य, शिवम मिश्रा, वरुण आर्य, प्रवीना ठक्कर(मुंबई), रवीन्द्र गुप्ता (फरीदाबाद), प्रवीन चावला (सोनीपत) आदि ने अपने विचार रखे और योजनाओं को सफल बनाने का आश्वासन दिया। बहिन पुष्पा चुघ, बिंदु मदान, नरेंद्र आर्य सुमन के सुंदर गीत सभी ने पसंद किए।सभी ने सबके मंगल व स्वास्थ्य लाभ की प्रार्थना की।