7वांअन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस आयोजन ऑनलाइन 21जून को


धनसिंह—समीक्षा न्यूज  

योग से जीवन सुलभ बनता है-डा उर्वशी मक्कड़


गाजियाबाद। संस्थान के ट्रस्टी श्री मनमोहन वोहरा ने प्रेस को जानकारी देते हुए बताया कि अखिल भारतीय ध्यान योग संस्थान(रजि०) एवं आई.एम. एस.कॉलेज के संयुक्त तत्वावधान में 7वां अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन विश्व प्रसिद्ध योगाचार्य श्रद्धेय आचार्य विजय जी के सानिध्य में ऑनलाइन किया जाएगा।ऑनलाइन Zoom पर उन्होंने आगे कहा कि प्रातः 6.00 बजे से 8.00 बजे तक आयोजन करने की व्यवस्था की गयी है। जिसका आई डी 97256040859 एवं पास कोड IMSGZB है।साथ ही साथ यह कार्यक्रम Facebook एवं यू-ट्यूब पर भी प्रसारित किया जाएगा।

संस्थान के अध्यक्ष श्री के के अरोड़ा जी ने बताया कि संस्थान की अनेकों कक्षाएं शहर के विभिन्न पार्कों में चल रही थीं लेकिन कोरोना काल में ऑनलाइन कुछ ही कक्षाएं चल रही हैं जिनसे लोग स्वास्थ्य लाभ उठा रहे हैं,अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस में ऑनलाइन बहुत सुन्दर व्यवस्था की गई है जिससे आमजन अपने घरों में ही योगाभ्यास कर सकेंगे।

आई एम एस कॉलेज की डायरेक्टर  डा.उर्वशी मक्कड़ ने बताया कि आधुनिक युग भागमभाग  से भरा हुआ है जीवन अनेक परेशानियाँ  से युक्त है समय की कमी है मानव हमेशा तनाव में रहता है तनाव और बीमारियों को दूर करने में योग महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है योग से जीवन सुलभ बनता है।योग को जीवन में अपनाकर स्वस्थ्य रहने के लिये मैं गाजियाबाद की जनता से निवेदन करती हुँ की इस आयोजन में अधिक से अधिक संख्या में ऑनलाइन भाग लेकर स्वास्थ्य लाभ उठाएं।

मुख्य संयोजक श्री लक्ष्मण कुमार गुप्ता ने कहा कि 'करो योग रहो निरोग'उन्होंने आगे कहा कि यदि हम स्वस्थ जीवन जीना चाहते हैं तो हमें योग की शरण में आना ही पड़ेगा चाहे कुछ भी हो हमें धर्म जाति मजहब से ऊपर उठकर योग को एक विज्ञान के रूप में देखना होगा जिससे हम बिना किसी भेदभाव के योग प्राणायाम आसन ध्यान धारणा के माध्यम से समाधि का सुख पा सके जिस प्रकार हमारे शरीर में रोग प्रवेश करते हैं उसी प्रकार हमें अपने शरीर से योग द्वारा रोगों को दूर करने में सहायता मिलती है।

महामंत्री दयानन्द शर्मा ने बताया कि  योग हमारे मन मस्तिष्क को ठीक करता है,इससे हम तनाव मुक्त रहते हैं,पाचन तंत्र स्वस्थ रहता है।अनुशासित जीवन के लिये योग की आज महत्ती आवश्यकता है।

मीडिया प्रभारी श्री प्रवीण आर्य  ने कहा की योग हमारी भारतीय वैदिक परम्परा की अनूठी देन है

योग भारत की प्राचीन संस्कृति का अभिन्न अंग है,योग के माध्यम से हम अपना तन मन स्वस्थ्य रख सकते है।

कोषाध्यक्ष श्री सुभाष गर्ग जी ने कहा कि माननीय प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वाहन पर पूरे विश्व में अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है।आज के तेजी से बदलते हुए समय में योग केवल फिटनेस के लिये ही नहीं अपितु मन मस्तिष्क को स्वस्थ्य रखने के लिये योग को अपनी नियमित दिनचर्या में अपनाना चाहिये।

ट्रस्टी अशोक मित्तल ने बताया कि योग शिक्षिका श्रीमती वीना वोहरा व शिक्षक अशील कुमार जी द्वारा सुन्दर डेमोस्ट्रेशन प्रस्तुत किया जाएगा।

कार्यक्रम को सफल बनाने में सर्वश्री अशोक शास्त्री,प्रदीप त्यागी,श्रीमती प्रमिला सिंह,सीमा शर्मा,सीमा गोयल,रेखा गुलाटी एवं सभी योग शिक्षक- शिक्षिकाओं ने अपना भरपूर सहयोग प्रदान करेंगी।

इस अवसर पर मुख्य रूप से सर्वश्री डॉ. मधु पोद्दार,रजनीश जैन(आई एम एस कॉलेज),रतन लाल, सीए केके कोहली,राजेश शर्मा,हरिओम,एस पी एस तोमर एवं श्रीमती मीता खन्ना आदि मौजूद रहेंगे।