शिक्षा से हम अन्याय, अत्याचार और अनाचार के विरोध में खड़े हो सकते है: रामदुलार यादव


धनसिंह—समीक्षा न्यूज  

साहिबाबाद। लोक शिक्षण अभियान ट्रस्ट द्वारा पं0 मदन मोहन मालवीय नि:शुल्क पुस्तकालय, वाचनालय 5/65 वैशाली, गाजियाबाद के प्रांगण में प्रतियोगी छात्रों में जो उच्च प्रशासनिक सेवा की तैयारी कर रहे है, संस्था के संस्थापक/अध्यक्ष राम दुलार यादव, महिला उत्थान संस्था की राष्ट्रीय अध्यक्ष बिन्दू राय ने पुस्तकें पुस्तकालय के संचालक चक्रधारी दूबे को भेंट किया| वी0 एन0 उपाध्याय ने कार्यक्रम का आयोजन किया, कई छात्र, छात्रा कार्यक्रम में भाग ले, पुस्तकालय में अध्ययनरत रह कार्यक्रम की सराहना किया|

   कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए संस्था के संस्थापक/अध्यक्ष राम दुलार यादव ने कहा कि “लोक शिक्षण अभियान ट्रस्ट” का उद्देश्य छात्र, छात्राओं को प्रतियोगिता की आवश्यक और उच्चकोटि के लेखकों की पुस्तक उपलब्ध करना है, जिससे यहाँ अध्ययन कर छात्र –छात्राए सफलता के शिखर पर पहुँच कर देश, समाज और व्यक्ति के सर्वांगीण विकास के लिए कार्य कर सकें| डा0 अम्बेडकर ने कहा है कि “शिक्षा वह शेरनी का दूध है, जो पियेगा वही दहाड़ेगा” शिक्षा से हम अन्याय, अत्याचार और अनाचार के विरोध में खड़े हो सकते है, शिक्षा हममे गति और शक्ति प्रदान करती है, संकल्प और कठिनाइयों पर विजय प्राप्त कर सकते है, पूर्ण शिक्षित व्यक्ति निर्भीकता पूर्वक बिना किसी दबाव के कर्तव्यों का निर्वहन कर सकता है| छात्र, छात्राओं को कड़ी मेहनत कर पक्के इरादे और लगन से अध्ययन करने की प्रेरणा देते हुए कहा कि “जब आप कहीं भी सेवा प्रदान करना तो याद रखना कि समाज के प्रति जो हमारा दायित्व है उसे जरूरतमंद की सहायता और सेवा में लगाना है”| 

    पुस्तकालय में कमेस्ट्री, फिजिक्स, मूलविधि और संविधान, डिक्शनरी ऑफ़ प्रोनन शिएशन, कम्पोजीशन, इंग्लिश सहित दो दर्जन पुस्तकें भेंट की गयी|

   कार्यक्रम में शामिल रहे, छात्र, छात्रागण, चक्रधारी दूबे, अंकुश, आयुष, आशुतोष, आकाश, विवेक, प्रज्ञान, भूमिका, तान्या, भानू, राष्ट्रीय अध्यक्ष महिला उत्थान संस्था बिन्दू राय ने बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए उन्हें प्रोत्साहित किया, कार्यक्रम के अन्त में वी0 एन0 उपाध्याय द्वारा जलपान वितरित किया गया|