"पांच तत्त्वों को कैसे संतुलित बनाये" गोष्ठी सम्पन्न


धनसिंह—समीक्षा न्यूज     

स्वस्थ जीवन के लिए पाँच तत्वों का संतुलन आवश्यक -टीना कपूर

गाजियाबाद। केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के तत्वावधान में "पाँच तत्वों को कैसे संतुलित बनायें" पर गोष्ठी का आयोजन किया गया।यह कोरोना काल में 270 वां वेबिनार था ।

मुख्य वक्ता 'रोटेरियन टीना कपूर', जो एक माइंडफुलनेस तथा हॉलिस्टिक  कोच हैं ने बहुत ही सरल विधि से अग्नि, वायु, पृथ्वी, जल,आकाश पांच तत्वों को संतुलित करना सिखाया ।  टीना जी ने 'मंत्र ध्यान 'और 'मुद्रा ध्यान ' के माध्यम से सबको अवगत कराया । उन्होंने कुछ योग की क्रियाएं,प्रार्थना एक्सरसाइज,  खाने के पदार्थ , और बीज ध्यान प्राणायाम भी बताए,  जिनसे हम अपने शरीर के  पांच तत्त्वों ( जल,पृथ्वी, वायु,अग्नि और आकाश) को एक्टिवेट,बैलेंस और हील कर सकते हैं, और अपने मन तथा मस्तिष्क की शक्ति को बढ़ा सकते हैं।  उनके रोचक व ज्ञान वर्धक सत्र का सभी लोगों ने बहुत  लाभ उठाया। उन्होंने कहा कि हम कोई भी पदार्थ ग्रहण करे तो परमात्मा का धन्यवाद कर ही सेवन करे इससे आनंद और लाभ बढ़ जाएगा ।

केन्द्रीय आर्य युवक परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल आर्य ने कहा कि जिसने यह जगत रचाया है उसका सदैव धन्यवादी रहना चाहिए इससे प्रसन्नता का अनुभव, सुख व शांति मिलेगी ।

मुख्य अतिथि डॉ. रचना चावला ने कहा कि आध्यात्मिक व्यक्ति ईश्वर के प्रति समर्पण भाव से कार्य करता हुआ सुख प्राप्त करता है । 

आर्य प्रतिनिधि सभा उत्तर प्रदेश की प्रान्तीय मंत्री शशि चोपड़ा ने कहा कि महर्षि दयानंद सरस्वती ने सत्यार्थ प्रकाश में ईश्वर के गुणों की चर्चा की है उन्हें ही स्वीकार करना चाहिए ।

राष्ट्रीय मंत्री प्रवीण आर्य ने ऑनलाइन उपस्थित श्रोताओं का आभार व्यक्त किया और कहा कि जब जब भी आपको ऐसे सुन्दर ज्ञानवर्धक कार्यक्रमों की जानकारी मिले आप इसी प्रकार स्नेह बनाए रखें और अपने साथियों को भी लिंक भेजें ताकि वह भी लाभान्वित हो सकें।

गायिका सुदेश आर्या,रजनी चुघ,प्रवीना ठक्कर,मृदुला अग्रवाल, दीप्ति सपरा, सुशांता अरोड़ा, ईश्वर देवी,बिंदु मदान, रवीन्द्र गुप्ता, कुसुम भंड़ारी, विजय लक्ष्मी आर्या आदि ने मधुर भजन सुनाये ।

प्रमुख रूप से आचार्य महेन्द्र भाई, वीरेन्द्र आहूजा, संतोष धर, आस्था आर्या,कर्नल अनिल आहूजा,कर्नल विपिन खेड़ा,सुदेश भगत आदि उपस्थित थे ।