विपक्षी दलों ने जातीय विद्वेष के आधार पर खाई को गहरा करने का काम किया: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ


धनसिंह—समीक्षा न्यूज  

अयोध्या। भाजपा पिछड़ा मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के समापन बोलते हुए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विपक्षी दलों ने जातीय विद्वेष के आधार पर खाई को गहरा करने का काम किया। उन्होने योजनाओं का लाभ वंचितों को नहीं दिया। सत्ता सुख प्राप्त हुआ तो अपने परिवार के विकास के लिए कार्य किया। उनका उद्देश्य कभी सर्वांगीण विकास नहीं रहा। समाज को विभाजित करने का काम विदेशी आक्रांताओं ने किया। क्या महाराणा प्रताप, छत्रपति शिवाजी, रानी लक्ष्मीबाई, झलकारी बाई, रानी दुर्गावती ने स्वयं की रक्षा के लिए काम किया। उनकी लड़ाई  देश व धर्म की रक्षा के लिए थी। वामपंथियों ने इन्हें भी जातीय आधार पर बांटकर उनकी गरिमा को कम करने का प्रयास किया। जिससे कोई इनसे प्रेरणा न प्राप्त कर सके। महाराणा प्रताप की जगह अकबर को महान बता दिया। जिससे आम भारतीय भ्रमित होकर गौरव की अनुभूति न कर सके। 

उन्होने कहा कि दीपोत्सव आज अयोध्या का पर्व बन गया है। लाखों लोग इससे जुड़ते है। पहले 51 हजार दीपक जले थे। इसके बाद माटी कला बोर्ड का गठन किया गया। कुम्हारों को मैनुअल चाक की जगह इलेक्ट्रिक की व्यवस्था की गयी। इस बार 7.5 लाख दीपक अयोध्या में जलेंगे। पहले दीपावाली पर लक्ष्मी गणेश की प्रतिमा के लिए चीन पर निर्भर रहना पड़ता था। इस कोरोना काल में चीन की मूर्तियां नहीं आयी। हमारे कुम्हारों ने चीन से सस्ती व अच्छी मूर्तियां बनाकर दी। इससे रोजगार सृजन हुआ। सपा सरकार में 57678 बच्चों को दशम छात्रवृत्ति के तौर पर 2015-16 में दी गयी थी। हमने उससे दस गुना बढ़ाकर 7 लाख 58 हजार बच्चों को यह छात्रवृत्ति दी। पहले नौकरी निकलती थी तो एक खानदान निकल पड़ता था वसूली के लिए। सरकार ने साढ़े चार लाख लोगो को नौकरी बिना भेदभाव के प्रदान की। 

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने कहा कि यूपी में सरकार बनाने के बाद गुण्डागर्दी को खत्म किया गया। पहले गुण्डे राईफल बन्दूक लेकर चलते थे। अब वहीं गुण्डाराज लाने का सपना विपक्षी देख रहे है। 2019 में जब सपा बसपा गठबन्धन हुआ तो भी भाजपा को 51 प्रतिशत वोटो के साथ 64 सीटें मिली। जनता अब यूपी में गुण्डागर्दी का शासन नहीं आने देगी। यूपी का कोई भी कार्यकर्ता अपने को उपमुख्यमंत्री से कम न समझे। कार्यकर्ताओं की बदौलत इतनी बड़ी विजय आयी थी। हमें 60 प्रतिशत से अधिक वोट लाना है। सपा बसपा प्राईवेट लिमिटेड कम्पनी है। कम्पनी का मालिक ने जो कहा वह हो गया। भाजपा विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है। यहां पहली बार विधायक बना व्यक्ति मुख्यमंत्री बन जाता है। चाय बेचने वाला देश का प्रधानमंत्री बन जाता है। जब बड़े बड़े दलों के गठबन्धन कुछ नहीं बिगाड़ पाये अब कह रहे है कि छोटे छोटे दलों से गठबन्धन करेंगे। 

पूर्व केन्द्रीय मंत्री हंसराज अहीर ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय के सिद्धान्तों पर चलते हुए अंतिम व्यक्ति के उत्थान के लिए सरकार संकल्पित है। सरकारी योजनाओं का लाभ शत प्रतिशत पात्रों को दिया गया है। समाज का हर वर्ग भाजपा की सरकार से काफी प्रसन्न है। इस बार भाजपा पिछली बार से ज्यादा सीटें विधानसभा चुनाव में लायेगी। पिछड़ा मोर्चा के प्रदेश प्रभारी दयाशंकर सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश इस चार वर्षो में सक्षम व समर्थ रुप में देश व दुनिया के समक्ष आया है। कोविड काल में यूपी सरकार के प्रयासों की सराहना वैश्विक स्तर पर की जा रही है। सरकार पूरी तरह से पारदर्शी व जवाबदेह है। भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टालरेंस की नीति के  तहत काम किया गया है। पिछड़ा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष नरेन्द्र कश्यप ने कहा कि विधानसभा चुनाव में पिछड़ा मोर्चा ने जो लक्ष्य लिया है उसको पूरा करने के लिए मोर्चा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता संकल्पित है। 350 से अधिक सीटे जीतने व 60 प्रतिशत से अधिक वोट हासिल करने में पिछड़ा मोर्चा अपनी बड़ी भूमिका निभायेगा। जनकल्याणकारी योजनाओं का सफल क्रियान्वयन इसका आधार बनेगा। उन्होने प्रदेश कार्यसमिति की सफल बैठक के लिए सभी पिछड़ा मोर्चा के सभी पदाधिकारियों का आभार व्यक्त किया।  इस अवसर पर प्रदेश सह प्रभारी एवं प्रदेश मंत्री पूनम बजाज प्रदेश महामंत्री विनोद यादव, संजय भाई पटेल, रामचंद्र प्रधान चिरंजीव चौरसिया, भास्कर निषाद, जयप्रकाश कुशवाहा, बाबा बालक दास, विमलेश वर्मा, योगेंद्र मावी, प्रदेश मीडिया प्रभारी सौरभ जायसवाल, भरत राजपूत, नानक चद भुर्जी, विजेंद्र कश्यप, विनोद राजभर, रूपेंद्र सिंह, मनीष योगी, यश पाल, गोला ज्योति सोनी, ओम प्रकाश गुप्ता, अंशुमान मित्रा मौजूद रहे।