वीरेन्द्र यादव एडवोकेट के नेतृत्व में सपा कार्यकर्ताओं का विशाल सम्मेलन आयोजित


धनसिंह—समीक्षा न्यूज   

गाजियाबाद। शांति फार्म हाउस, नंदग्राम सिहानी के प्रांगण में समाजवादी पार्टी 55, विधानसभा साहिबाबाद के सेक्टर प्रभारियों, बूथ सदस्यों का विशाल सम्मेलन जिला महासचिव जनपद गाजियाबाद वीरेन्द्र यादव एडवोकेट के नेतृत्व में आयोजित किया गया, कार्यक्रम की अध्यक्षता समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता धर्मवीर डबास ने किया। मुख्य अतिथि पूर्व महानगरअध्यक्ष जे0 पी0 कश्यप रहे। आयोजन साहिबाबाद विधानसभा के अध्यक्ष सरदार अवतार सिंह काले ने, संचालन युवा नेता मनोज पंडित ने किया, कार्यक्रम को मोहम्मद अब्बास, विक्रांत पंडित, रामप्यारे यादव, अंशु ठाकुर, विक्की सिंह, राज देवी चौधरी, प्रेमचंद गुप्ता, तफ्सीर आलम ने भी संबोधित किया, बेगम सन्नो, नीरज उपाध्याय, राजेंद्र विश्वकर्मा, अमरीकन सैफी, अजय खरखोदिया, राजेंद्र कश्यप,एस0 एस0 प्रसाद, सतीश सोनी, रामपाल राजौरा, मंचाशीन रहे। महिला उत्थान संस्था की राष्ट्रीय अध्यक्ष बिंदु राय ने समाजवादी पार्टी के लिए गीत प्रस्तुत किया। सपा कार्यकर्ताओं में इतना जोश था कि पूरे पंडाल में पैर रखने की जगह नहीं थी। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वीरेन्द्र यादव एडवोकेट ने कहा कि नन्द ग्राम, सिहानी, राज नगर एक्सटेंशन में 125 बूथ है, हम सभी समाजवादी भारी तादाद मैं यहां मौजूद हैं, आज ही हम यहां से संकल्प लेकर जाएं कि हम हर घर-घर जाकर समाजवादी पार्टी की नीतियों, सिद्धांतों तथा माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव द्वारा उनके मुख्यमंत्रितत्व काल में उत्तर प्रदेश में किए गए अभूतपूर्व विकास कार्यों को बताने का कार्य करेंगे है, जनता श्री अखिलेश यादव जी के नेतृत्व में उत्तर-प्रदेश में सरकार बनाना चाहती है, हमें भगीरथ प्रयास कर सरकार बनवानी है, आज यहा महंगाई आसमान छू रही है ,आवश्यक वस्तुएं आम जनता की पकड़ से बाहर हो गई है, बेरोजगारी बेकारी का आलम है, सवाल शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार पर होना चाहिए, बात जाति, धर्म, मंदिर, मस्जिद, मुसलमान और पाकिस्तान की करके जनता को भरमाया जा रहा है, इस सरकार में देश का हर वर्ग किसान, मजदूर, छात्र, नौजवान, व्यापारी, कर्मचारी, रेहड़ी, पटरी, तह बाजारी, खोमचे वाले सभी बदहाल हैं, सरकार, उत्सव महोत्सव मना रही है, सैकड़ों किसान की जान 10 महीने के किसान आंदोलन में चली गई, संवेदनहीन सरकार ने किसान के पक्ष में एक शब्द भी नहीं कहा। नोटबंदी, जी0 एस0 टी0 की मार से व्यापारी उबरा नहीं था कि वैश्विक महामारी कोरोना ने उसकी कमर तोड़ दी, लाखों लोग दवाई, बेड, वेंटीलेटर, ऑक्सीजन के अभाव में असमय काल के गाल में चले गए, संवेदन शून्य सरकार ने उनका अंतिम संस्कार भी विधिवत नहीं कर पाई, लाशों को पवित्र गंगा, यमुना में लावारिस फेंक दिया गया, इससे ज्यादा शर्मनाक घटना क्या हो सकती है, लोकतंत्र खतरे में है संवैधानिक संस्थाओं को प्रभावित किया जा रहा है, डॉक्टर अंबेडकर के संविधान को यह सरकार कमजोर करने पर लगी है, अब आशा की किरण आपमें निहित है, इस अहंकारी सरकार को हटाने का काम आपके कंधों पर है, हम मिलकर जरूर सफल होंगे तथा उत्तर प्रदेश और केंद्र से इन्हें उखाड़ने का कार्य करेंगे। मुख्य अतिथि समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता जे0 पी0 कश्यप ने कहा कि अत्याचार, अनाचार, दंभ अधिक दिन नहीं चलता है, महाभारत में कृष्ण ने पांडवों का साथ दिया और कौरवों के शासन को समाप्त कर दिया, हमें आपको भगवान कृष्ण के बताए मार्ग का अनुसरण करते हुए उत्तर-प्रदेश देश से इस सरकार को अपदस्थ करना है यह आपकी मेहनत, लगन से संभव है। कार्यक्रम के अध्यक्ष पूर्व महानगर अध्यक्ष धर्मवीर डबास ने कहा कि श्री अखिलेश यादव ने हिंडन नदी गाजियाबाद में अपने मुख्यमंत्रित्व काल में 3 पुल का निर्माण करवाया जिससे जन-मानस को जाम से राहत मिली भाजपा साढ़े चार साल में टूटे हुए ऐतिहासिक हिंडन पुल को आज तक नहीं बनवा पाई। इनके विकास की कहानी झूठ,पाखंड से लबालब भरी है। रामदुलार यादव पूर्व राज्य कार्यकारिणी सदस्य समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता बेलगाम हो गए हैं, मठाधीश मुख्यमंत्री जी असफल मुख्यमंत्रियों की कतार को सुशोभित कर रहे हैं, जितनी बलात्कार की घटनाएं इस सरकार में हुई हैं, यह घटना पूरे देश को शर्मसार करने के लिए काफी है। 45 से अधिक साधुओं की हत्या इनकी सरकार में हुई उससे संत समाज आहत है।

कार्यक्रम में संजू शर्मा जिला उपाध्यक्ष महिला सभा , अनीता सिंह साहिबाबाद विधानसभा अध्यक्ष,बिंदु राय महिला उत्थान संस्था राष्ट्रीय अध्यक्ष, शबाना, शशि कश्यप, जिला उपाध्यक्ष, रेखा आचार्य विधानसभा सचिव साहिबाबाद, शिव यादव, विजेंद्र यादव, मुरलीधर यादव, ऋषिराज रवि चतुर्वेदी, राज पाल यादव, डॉ सुनीता त्रिपाठी, महेन्द्र यादव, देवमन यादव, पदारथ झा, राम मिलन, मो0 अली, राम सिंह, के0 के0 त्रिपाठी, विश्व कर्मा, लीलाधार, उदय राज, मुरलीधर यादव, अवधेश यादव, फुल तिवारी, शीला गिरी, लाडली, आशा कुशवाहा एडवोकेट, वीर सिंह, चंद्रपाल प्रधान, सुरेश गुप्ता, अख्तर खान, रोहित, बॉबी, दिलशाद, जमील भाई, अतुल चौहान,सुरेन्द्र यादव, मुनताज भाई, फूल तिवारी, उपेंद्र यादव सुनीता त्रिपाठी, विनोद वर्मा, रामचंद्र तिवारी, गुड्डू यादव, कन्हैया, कपिल, आसिफ, मदन, सोनू, मंगल, राजू, राजा, रमेश, इंद्रजीत सिंह, कृष्णा नन्द यादव, सुनीत आदि शामिल रहे।