रामदुलार यादव ने कैंडल मार्च निकाल कर दी शहीद किसानों को श्रद्धांजलि



धनसिंह—समीक्षा न्यूज   

गाजियाबाद। डॉ0 ए0पी0जे0 अब्दुल कलाम नि:शुल्क पुस्तकालय, वाचनालय ईदगाह रोड पसोंडा, साहिबाबाद, जनपद गाजियाबाद के प्रांगण में लखीमपुर खीरी में किसान के ऊपर जीप और फारचूनर गाड़ी चढ़ाने 4 किसानों की निर्मम जान ले लेने वाले असामाजिक तत्वों के घिनौने कृत्य की घोर निंदा करते हुए शहीद किसानों को सम्मान और स्मरण करते हुए कैंडल मार्च निकाल उन शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई तथा किसान परिवारों को इस दुख की घड़ी को सहन करने की शक्ति प्रदान करने के लिए सर्वशक्ति  मान सत्ता  से प्रार्थना करते हुए शहीद किसानों को प्रकृति अपनी गोद में स्थान दे  2 मिनट का मौन रखा गया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता राम दुलार यादव ने कहा कि शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन करने वाले किसानों के ऊपर जीप, फारचूनर गाड़ी से हमला भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं की सामंतवादी सोच का परिचायक है, लोकतंत्र को कुचलने की साजिश है, जब भारत की संसद में 43% दागदार जन प्रतिनिधि, प्रतिनिधित्व करेंगे तो जनहित, राष्ट्रहित की कल्पना करना दिन में तारे नजर आने के समान हैं, इस घटना में केंद्र के मंत्री जी के पुत्र का मुख्य रूप से  शामिल होना, जिस मंत्री जी पर पहले से ही आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं, उनसे और उनके परिवार से जनहित की अपेक्षा करना मृग मरीचिका के समान है, इस कार्यक्रम में जघन्य अपराध की घोर निंदा के साथ-साथ अपराधियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग की गई तथा मंत्री जी को  नैतिकता के आधार पर स्वयं त्यागपत्र देने की भी मांग की गई, तभी निष्पक्ष जांच इस घटना की हो सकती है, अब तक माननीय प्रधानमंत्री जी ने इस घटना पर कोई संवेदना प्रकट नहीं की। इतनी संवेदन शून्यता भगवान बुद्ध, महात्मा गांधी, डॉक्टर अंबेडकर के देश में अन्नदाता के साथ कोरा मजाक है जबकि माननीय प्रधानमंत्री जी विदेशो में यह कहते हैं कि हमारा देश भगवान बुद्ध के ही विचार पर चलने  वाला देश है। किसानों की मांग को न मानना सरकार की हठधर्मिता है, इसका परिणाम सैकड़ों किसान 10 महीने से चल रहे किसान आंदोलन में शहीद हो गए, अब किसानों पर सीधा हमला हो रहा है, यह लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत नहीं है। जन भावनाओं का देश हित में आदर करना लोकराज को मजबूत करेगा मंत्री जी को तत्काल बर्खास्त किया जाना चाहिए।

कार्यक्रम में शामिल रहे पूर्व राज्य कार्यकारिणी सदस्य उत्तर प्रदेश रामदुलार यादव, विधानसभा उपाध्यक्ष माजिद ठाकरान, फौजउद्दीन चौधरी, शाहरुख चौधरी, अंशु ठाकुर महानगर अध्यक्ष छात्र सभा गाजियाबाद, महिला उत्थान संस्था की राष्ट्रीय अध्यक्ष बिंदु राय, सचिव रेनू पुरी, रविंद्र यादव, मोहम्मद इरफान, साजिद चौधरी, जमालुद्दीन, जावेद आदि शामिल रहे।