भारत विकास परिषद गाजियाबाद संवाद शाखा ने नवरात्र में कन्या वंदना कर, एनीमिया एवम कुपोषण मुक्त भारत का लिया संकल्प


सविता निर्वाण—समीक्षा न्यूज    

गाजियाबाद। भारत विकास परिषद गाजियाबाद संवाद शाखा नवरात्र के इस परंपरागत त्यौहार को एक अनूठे अंदाज में मना रहा है। परिषद की संवाद शाखा जिले के विद्यालयों में जाकर जहां कन्या पूजन कर बेटी बचाओ अभियान को बढ़ावा दे रहा है वही एनीमिया मुक्त भारत अभियान को भी परवान चढ़ा रहा है। इस मौके पर स्कूली बेटियों  का हिमोग्लोबिन टेस्ट कर उन्हें स्वस्थ रहने के टिप्स भी दे रहा है ।आज इसी कड़ी में संजय नगर सेक्टर 23 स्थित राम किशन इंस्टीट्यूट परिसर में भारत विकास परिषद गाजियाबाद संवाद शाखा की टीम पहुंची और उसके जुड़े पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने स्कूली कन्याओं का पूजन किया और उनके स्वास्थ्य परीक्षण  संबंधी सभी प्रक्रियाएं पूरी की। इसके अलावा परिसर में ही आम  शिक्षकों और आम लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण भी किया गया और उनके रक्त के नमूने लेकर प्रयोगशाला में भेजे गए ताकि यह पता चल सके उनके  शरीर में क्या  कमियां है ।इस मौके पर भारत विकास परिषद की संवाद शाखा गाजियाबाद के अध्यक्ष प्रमोद गोयल ने कहा परिषद का उद्देश्य एनीमिया एवं कुपोषण मुक्त भारत का निर्माण करना है ।इसलिए इस अभियान को सफल बनाने के लिए हमारी टीम स्कूल स्तर पर कार्य कर रही है। इसी क्रम में महिला संयोजिका निशा गर्ग ने कहा कि  जब बेटियां बचेगी तो आगे की जनरेशन भी बढ़ेगी ,इसलिए बेटियां वंदनीय है और हम अपनी बेटियों का आज पूजन कर रहे हैं।इसी कड़ी में आरकेआई के निदेशक व  विश्व हिंदू परिषद के महानगर अध्यक्ष डॉ आलोक गर्ग ने कहा कि हिंदुत्व परंपरा में कोई भी मिशन तब तक अधूरा है ,जब तक कन्याओं की वंदना न हो। भारत विकास परिषद गाजियाबाद संवाद शाखा का यह अभियान वास्तव में काबिले तारीफ है। अंत में आरकेआई की प्रधानाचार्या डॉ मालती गर्ग ने परिषद के सभी पदाधिकारियों और आयोजकों का आभार व्यक्त किया।