"मिशन शक्ति" के तहत शारदा यूनिवर्सिटी में विचार गोष्ठी का आयोजन



धनसिंह—समीक्षा न्यूज  

गाजियाबाद। महिला सुरक्षा स्वावलंबन और उनके अधिकारों को लेकर महिला उन्नति संस्था (भारत) द्वारा "मिशन शक्ति" के तहत ग्रेटर नोएडा स्थित शारदा यूनिवर्सिटी में विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी में बोलते हुए शारदा यूनिवर्सिटी के नर्सिंग विभाग की प्राचार्या उर्मिला भारद्वाज ने कहा कि आज महिलाएं हर क्षेत्र में सफलता का परचम लहरा रही है उन्हें जरूरत है अवसर की और अब समय आ गया है जब महिलाओं को आगे बढ़ने के अवसर देने होंगे जिसके लिए जरूरी है लोग महिलाओं को लेकर अपनी रूढ़िवादी सोच में बदलाव लाये। हमें अपनी बहन बेटियों को उच्च शिक्षित कर उन्हें स्वावलंबी बनाना होगा। वहीं संस्था के संस्थापक डा राहुल वर्मा ने कहा कि किसी भी देश के विकास के लिए जरूरी है कि उस देश की महिलाएं पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करें तभी स्त्री पुरूष की समानता के लिए बेहद जरूरी है। महिलाएं जब अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होंगी तो कोई उनका उत्पीड़न नहीं कर सकता इसके लिए संस्था मिशन शक्ति के माध्यम से शहर-गांव और शिक्षण संस्थानों में जागरूकता कार्यक्रम चला रही है गोष्ठी में निर्णय लिया गया कि महिला उन्नति संस्था द्वारा चलाये जा रहे महिला सुरक्षा-हमारी जिम्मेदारी अभियान के अंतर्गत संस्था और शारदा यूनिवर्सिटी के छात्रों द्वारा संयुक रूप से नुक्कड़ नाटक के माध्यम से गांव-शहर और कस्बों में जाकर लोगों में जागरुकता लाने का कार्य किया जाएगा।  इस अवसर पर संस्था द्वारा चलाये जा रहे महिला सुरक्षा-हमारी जिम्मेदारी एक सर्वेक्षण अभियान के तहत महिला सुरक्षा पर महिलाओं से उनके विचार एवं सुझाव भी लिए गए । गोष्ठी में डा ओमवीर बघेल, डा शांति ईडा, प्रोफेसर शिल्पी मित्तल, रेखा पुरी शालिनी गोस्वामी, अमृता सिंह, सुनैना भारती, लवलीन कौर और माधुरी चौहान आदि वक्ताओं ने "मिशन शक्ति" को लेकर गोष्ठी में अपने विचार व्यक्त किये।