गंदगी, टूटे नाली—खंडजे, खराब स्ट्रीट लाईटों से परेशान वार्ड—44 के निवासी, जिम्मेदार कौन...?



समीक्षा न्यूज नेटवर्क

गाजियाबाद। साहिबाबाद विधानसभा क्षेत्र के वार्ड नंबर 44 बालाजी विहार कॉलोनी में नगर निगम के स्वच्छता जैसे व्यापक अभियान के नाम पर कॉलोनीवासियों के लिए स्वच्छता के नाम पर धब्बा है। अर्थला स्थित बालाजी विहार कॉलोनी में नगर निगम के द्वारा प्रदत्त सुविधाओं के नाम पर भी धब्बा है। भावी कांग्रेस पार्षद प्रत्याशी दीप​ सिंह ने बताया कि कॉलोनी वासियों के लिए शुद्ध पेयजल की व्यवस्था नहीं है।  कॉलोनी में अधिकतर जगह मुख्यता गलियों में नाली सड़कों की हालत खस्ताहाल है। जिसके कारण नाली के गंदे पानी की निकासी नहीं हो पाती है और गंदगी के कारण हमारे स्थानीय निवासियों को डेंगू मलेरिया भी हुआ है। अधिकतर जगह खंभों पर स्ट्रीट लाइट नहीं है जिसके लिए नगर निगम को 3-4 महीने पहले 10-12 नहीं लाइटों लगवाने के लिए नगर आयुक्त जी के नाम शिकायत पत्र लिखकर भी दिया है। लेकिन अभी तक नई लाइट नहीं लगी है। नाली सड़क के निर्माण को लेकर 4 बार नगर निगम को लिखित में शिकायत पत्र भी दे दिया। लेकिन फिर भी नाली सड़क के निर्माण को लेकर कोई संज्ञान नहीं लिया जा रहा है। बालाजी विहार कॉलोनी के स्थानीय निवासियों के सभी लोगों ने मिलकर राशन कोटा खुलवाने के लिए भी लिखित में खाद्य एवं रसद विभाग, जिला पूर्ति अधिकारी के नाम शिकायत को संज्ञान में डाला गया। लेकिन उस पर भी कोई भी संज्ञान नहीं लिया गया। दीप सिंह ने बताया कि हमारे द्वारा इन सभी मामलों से पार्षद, विधायक, नगर निगम सहित उन सभी गणमान्य लोगों को इस मामले से अवगत कराया गया जिनके कार्य क्षेत्र में यह काम आता है। किन्तु नगर निगम और जिला प्रशासन हम लोगों को सुविधाएं पहुंचाने के लिए विफल होता नजर आ रहा है। प्रदर्शन में दीप सिंह, रामसेवक पाल, संजय भगत, मनोज, अरविंद दीक्षित, महिलाओं में 

मीना दीक्षित, सपना, किरण देवी, मधु, सुमन, निर्मला देवी आदि मौजूद रहे।