लोनी में अमन, शांति और आपसी भाईचारे का रहेगा माहौल : मदन भैया पूर्व विधायक



अली खान नहटौरी

समीक्षा न्यूज नेटवर्क

लोनी: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव का बिगुल बजने जा रहा है। ऐसे में चुनावी माहौल में जहर घोलने वाले कुछ असामाजिक तत्वों का सक्रिय होना स्वाभाविक है। लोनी विधानसभा क्षेत्र में भी कुछ असामाजिक तत्वों ने  विधानसभा चुनाव नजदीक आते देख भ्रमित करने वाली झूठी और बनावटी खबरों को सोशल मीडिया पर फैलाना शुरु कर दिया है। हालांकि इस तरह की अफवाहों को रोकने का काम तो पुलिस प्रशासन का है लेकिन हम लोनी क्षेत्र वासियों को भी चुनावी लाभ की बदनीयत से फैलाई जाने वाली किसी भी तरह की झूठी अफवाहों और भ्रामक खबरों से सावधान रहना होगा।

    हमें लोनी के उस इतिहास को दोहराना होगा जब भले ही देश और प्रदेश के किसी भी कोने में किसी भी प्रकार के सांप्रदायिक दंगे हुए हों लेकिन लोनी का इतिहास सदैव से अमन शांति और आपसी भाईचारे का रहा है। किसी भी देश, प्रदेश और शहर में विकास से भी ज्यादा महत्व वहां के आपसी सौहार्द और भाईचारे का रहता है जिसमें सब लोग सुरक्षित महसूस कर सकें। हम सब को मिलकर लोनी क्षेत्र के अमन, शांति और भाईचारे को खत्म करने वाले असामाजिक तत्वों को मुंहतोड़ जवाब देना होगा। क्योंकि ऐसे लोग सांप्रदायिक दंगे करा कर खुद तो घरों में सुरक्षित रहते हैं और दंगों की आग में आम अवाम और गरीब लोगों को तबाह करने के लिए छोड़ देते हैं।

  अगर अतीत में लोनी क्षेत्र के अमन शांति और आपसी भाईचारे पर नजर डालें तो सन् 2012 तक शासन, सत्ता और विधायक भले ही किसी भी पार्टी का रहा हो लेकिन लोनी में आपसी भाईचारे की मिसाल सदैव कायम रही। क्षेत्र के लोगों को भली-भांति जानकारी है कि लोनी के आसपास के सभी गांवों के लोगों और मुस्लिम संप्रदाय के भाइयों के आपसी संबंध बहुत मधुर रहे हैं लेकिन कुछ वर्षों से कुछ चुनिंदा लोग निजी स्वार्थ वश भ्रामक बयानों और खबरों के जरिए आपसी संबंधों में जहर घोलने की राजनीति कर रहे हैं। घर, परिवार, क्षेत्र और समाज में भाईचारे और अमन में जहर घोल कर  नफ़रत के बीज बोने वालों की काठ की हांडी बार-बार नहीं चढ़ा करती है।अब लोनी क्षेत्रवासी ऐसे लोगों को भलीभांति पहचान चुके हैं। 

 लोनी क्षेत्र में बदलते राजनैतिक माहौल से डरे सहमे लोगों द्वारा मेरी फोटो के साथ एडिट एक ऐसा पुराना वीडियो वायरल करना उनकी हताशा को जाहिर कर रहा है जिस एडिट वीडियो के विषय में दिनांक 8 फरवरी 2020 को थाना टीला मोड़ में भी शिकायत दर्ज कराई जा चुकी है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मेरा फोटो एडिट कर संप्रदाय विशेष के लिए वीडियो में अपशब्दों का शब्दों का इस्तेमाल करने वाले लोग गिरफ्तार भी किये गये थे।

  इसीलिए मेरी लोनी क्षेत्र के वाशिंदों से विशेष अपील है कि राजनीतिक रोटियां सेंकने के लिए अमन, शांति और आपसी भाई चारे में साजिशन जहर घोलने वालों से सावधान रहें और पुलिस प्रशासन ऐसे लोगों के खिलाफ सख्ती बरतें।