सीईओ सेमवाल की शानदार विदाई बनी यादगार


वाचस्पति रयाल—समीक्षा न्यूज   

नरेन्द्रनगर। टिहरी जिले के मुख्य शिक्षा अधिकारी शिव प्रसाद सेमवाल का स्थानांतरण हरिद्वार होने पर यहां स्थित शहीद भगत सिंह नेगी राजकीय इंटरमीडिएट कॉलेज में शिक्षा विभाग के अनेकों संगठनों ने उनके सम्मान में एक शानदार विदाई समारोह आयोजित कर यादगार बना दिया।

   शिक्षा के हर क्षेत्र में अपनी विद्वत्ता के लिए पहचाने जाने वाले श्री सेमवाल के सम्मान में यह विदाई समारोह राजकीय शिक्षक संघ,माध्यमिक शिक्षक संघ,मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन तथा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ की ओर से आयोजित किया गया था।

  समारोह में श्री सेमवाल का फूल-मालाओं से स्वागत करने के साथ ही, विदाई/अभिनंदन पत्र भेंट कर व शाल ओढ़ाकर सम्मानपूर्वक एक चिरस्मरणीय विदाई देकर यादगार बनकर रह गयी।



  इस विदाई समारोह की खास बात यह रही कि शिक्षा से जुड़े जनपद के सभी संगठनों द्वारा अपनी भव्य विदाई समारोह में बोलते हुए जिला मुख्य शिक्षा अधिकारी शिव प्रसाद सेमवाल का यह संबोधित एक बार फिर से सभी के लिए मार्मिक व ज्ञान वर्धक साबित हुआ।

   अपनी विदाई समारोह में श्री सेमवाल ने कहा कि एक दूसरे से सीखने-सिखाने,समझने-समझाने के साथ मनोयोग दृढता से करते -कराते कार्यों पर होने वाली आलोचना का आत्ममूल्यांकन कर चिंतन-मनन करते हुए काम पर आगे बढ़ने की ललक निश्चित ही कार्य दक्षता के साथ कामयाबी की मंजिल तक पहुंचा देती है। श्री सेमवाल ने अपनी भव्य विदाई समारोह आयोजन के लिए शिक्षक संगठनों का आभार व्यक्त किया।

 उन्होंने अधिकारियों व शिक्षकों से कहा कि अपने अधीनस्थों से बेहतर  कार्य जितना बेहत्तर मैत्रीपूर्ण व्यवहार से कराया जा सकता है, उतना आदेशात्मक भाषा से नहीं। उनका कहना था कि विषय में पारंगत होने के साथ काम कराने की कला भी आनी चाहिए।कहा आदेशात्मक भाषा से नहीं,बल्कि मैत्रीपूर्ण व्यवहार से काम लेना कहीं श्रेयस्कर है। श्री सेमवाल का कहना था कि ऐसी कार्रवाई से सदैव बचें जिससे दूसरे में कुंठा के भाव उत्पन्न हों।

   इस मौके पर जिला विज्ञान समन्वयक अलख नारायण दुबे, राजकीय शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष श्याम सिंह सरियाल,जिला मंत्री लक्ष्मण सिंह रावत,मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन के प्रांतीय महामंत्री वीरेंद्र सिंह गुसाईं, प्रधानाचार्य डॉ प्रेम सिंह,प्रधानाचार्य राजकुमारी प्रसाद सिंह, नगर पालिका अध्यक्ष राजेंद्र सिंह राणा,वरिष्ठ पत्रकार वाचस्पति रयाल,शिक्षक संघ गढ़वाल मंडल के अध्यक्ष रविंद्र सिंह राणा, खंड शिक्षा अधिकारी ओ पी वर्मा ने अपने संबोधन में ऐसे जिला मुख्य शिक्षा अधिकारी ,जो हर विषय पर मजबूत पकड़,कार्य के प्रति प्रतिबद्धता,समर्पण,सभी से मैत्रीपूर्ण व्यवहार,इंस्पायर अवार्ड से लेकर जिले की शिक्षा का बेहतर रिजल्ट सहित अनेकों क्रियाकलापों की बेहतरी के लिए लंबे समय तक याद किये जाते रहेंग।सभी का कहना था कि श्री सेमवाल की कार्यकुशलता, दक्षता व उनके कार्य शिक्षा क्षेत्र में काम करने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए सदैव प्रेरणादायक साबित होंगे।

  कार्यक्रम का सफल संचालन जिला विज्ञान समन्वयक अलख नारायण दुबे ने किया।

  सचमुच यह बेहतरीन, शानदार व भव्य विदाई समारोह श्री सेमवाल की कार्य के प्रति उच्च कोटि की काबिलियत को प्रदर्शित कर गया। ऐसे ही लोग जीवन में आगे बढ़ने वालों के लिए बनते हैं,आदर्श और प्रेरणा के स्रोत।