नशे का बढ़ता प्रचलन देश के लिए घातक-बीo केo राजीव

वाचस्पति रयाल—समीक्षा न्यूज  




महाविद्यालय में नशा मुक्ति पर कार्यशाला आयोजित 

स्वच्छता अभियान के साथ वाटिका में किया पौधारोपण 

नरेन्द्रनगर।  राजकीय महाविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई और प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय माउंट आबू राजस्थान के सहयोग से नशा मुक्ति पर एक कार्यशाला/गोष्ठी का आयोजन किया गया।

 कार्यक्रम में प्रजापिता ब्रह्माकुमारी के ज्ञान प्रचारक बीके राजीव मुख्य वक्ता थे।

नशा मुक्ति पर बोलते हुए बीके राजीव ने जानकारी दी कि भरोसेमंद रिपोर्ट के मुताबिक प्रतिवर्ष देश में 20 लाख व्यक्तियों की मौत नशे के सेवन से होती है। उन्होंने चिंता जताते हुए कहा कि जब 12 से 30 वर्ष आयु के 93% युवा नशे की चपेट में आते जा रहे हैं, ऐसे में स्वस्थ भारत की कल्पना कैसे साकार होगी?नशे का बढ़ता प्रचलन युवाओं को बर्बादी के कगार पर और देश को कमजोर कर रहा है। नशे की प्रवृत्ति को बढ़ावा देने के लिए उन्होंने देश-प्रदेश की सरकारों को भी जिम्मेदार ठहराया। सुझाव देते हुए उन्होंने कहा कि जन सरोकारों से जुड़े कार्यों में भागीदारी करने के साथ योगाभ्यास,योगध्यान के प्रति युवाओं का रुझान बढ़ाना आवश्यक है।

 इस मौके पर उन्होंने ही नशा मुक्ति की भी शपथ दिलाई। महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डॉ उमेश चंद मैठाणी ने मुख्य वक्ता बीके राजीव सहित उनके साथ आए ब्रम्हाकुमारी संस्था के भाई-बहनों का स्वागत करते हुए कहा कि प्रजापिता ब्रह्माकुमारी द्वारा चलाया जा रहा नशा मुक्ति अभियान न सिर्फ समर्थन देने बल्कि इसमें बढ़-चढ़कर हर किसी को हिस्सा लेने की जरूरत है, यदि लोग बढ़-चढ़कर इस अभियान में शामिल हों तो निश्चित ही यह अभियान समय की कसौटी पर खरा उतरेगा।

कार्यक्रम का संचालन करते हुए एनएसएस प्रभारी डॉo संजय कुमार ने कहा कि नशा व्यक्ति के शरीर और मन दोनों को दूषित करता है।

 उन्होंने कहा कि ईश्वर की बनाई 84 लाख योनियों में सर्वोत्कृष्ट मानव बुरे-भले कार्यों में अंतर समझते हुए उन्हें अपने जीवन के उतारने का सार्थक प्रयास करे,तो एक दिन ऐसा ही व्यक्ति सफलता के शिखर को छूने में कामयाब होता है और तभी उन्नत राष्ट्र की कल्पना भी सम्भव है।

कार्यशाला/गोष्ठी के बाद स्वंयसेवियों द्वारा एनएसएस वाटिका में औषधीय, फल और फूलदार पौधों का रोपण करने के साथ महाविद्यालय परिसर में खरपतवार हटाने के साथ झाड़ियों को काटते हुए स्वच्छता अभियान चलाया गया।

कार्यक्रम में बीo केo नितीश,डॉo हिमांशु जोशी,डॉo सृचना सचदेवा, डा०संजय महर,डॉo संतोष कुमार,डॉo राजपाल सिंह रावत, डॉo जीतेन्द्र नौटियाल,डॉo चंदा नौटियाल, डॉo ईरा सिंह, डॉo विजय प्रकाश भट्ट, डॉo सोनिया गंभीर,एनएसएस व कॉलेज के छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।