छात्रवृत्ति परीक्षाओं में भिलंगना विकास खंड के बच्चों ने दिखाया हुनर

वाचस्पति रयाल—समीक्षा न्यूज  

दो प्रतियोगिताओं में जिले के हिस्से आयी 113 संख्या में भिलंगना प्रखंड के 48 बच्चों ने पायी सफलता


                                                  भुवनेश्वर प्रसाद जदली,खंड शिक्षा अधिकारी

नरेन्द्रनगर।नवोदय विद्यालय द्वारा प्रतियोगिता परीक्षाओं में अपना परचम लहराने के बाद भिलंगना विकास खंड के छात्र-छात्राओं ने मानव विकास मंत्रालय द्वारा आयोजित छात्रवृत्ति परीक्षाओं में भी ना सिर्फ़ अपनी शानदार हुनर का प्रदर्शन कर सभी को चौंकाया है,बल्कि शिक्षा व सामाजिक क्षेत्र में प्रदेश को प्रगति के पथ पर आगे बढा़ने का जिम्मा लिए खास लोगों का ध्यान भी अपनी ओर खींचने में बहुत हद तक सफलता पायी है।

  बताते चलें कि आर्थिक रूप से कमजोर मध्यम आय वर्ग के प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं की आर्थिक सहायता के मकसद से  मानव विकास मंत्रालय द्वारा यह प्रतियोगिता आयोजित कराई जाती है। ताकि प्रतिभावान छात्र-छात्राएं अपनी आगे की पढ़ाई निरंतर जारी रख सकें।

   गौरतलब है कि यह छात्रवृत्ति शासकीय अनुदान प्राप्त एवं स्थानीय निकायों के विद्यालयों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं के लिए ही अनुमन्य है।



उल्लेखनीय है कि प्रतिभावान छात्र-छात्राओं की पठन-पाठन के प्रति रुचि बढ़ाने को लेकर तीन तरह की छात्रवृत्ति परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं। जिनमें राष्ट्रीय साधन सह योग्यता छात्रवृत्ति,डॉक्टर शिवानंद नौटियाल छात्रवृत्ति तथा श्री देव सुमन योग्यता छात्रवृत्ति शामिल है। इन तीनों छात्रवृत्ति परीक्षाओं में चयनित छात्र-छात्राओं को प्रति माह क्रमशः 1000रूपये;1500रूपये व 1000रूपये की धनराशि कक्षा 9 से 12 तक 4 वर्षों तक प्राप्त होती है।  मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार की राष्ट्रीय साधन सह योग्यता छात्रवृत्ति के लिए समूचे प्रदेश भर में 1048 छात्र-छात्राओं का चयन किया जाना था। टिहरी जनपद से सिर्फ 94 प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को चयनित किया जाना था, जिसमें खास बात यह है कि जिले के नौ विकास खंडों में अकेले भिलंगना विकास खंड से 37 छात्र-छात्राओं ने प्रतियोगिता में सफलता प्राप्त कर बाजी मारी।

  डॉक्टर शिवानंद नौटियाल छात्रवृत्ति के लिए पूरे प्रदेश में गढ़वाल और कुमाऊं मंडल से 50-50 छात्र-छात्राओं अर्थात कुल 100 छात्र -छात्राओं का चयन किया जाना था, इस छात्रवृत्ति परीक्षा में टिहरी के 19 छात्र-छात्राओं ने सफलता प्राप्त की। जिसमें अकेले भिलंगना विकास खंड से 11 छात्र- छात्राओं ने सफलता प्राप्त कर जिले भर में अपनी हुनर का डंका बजाया।

 वहीं श्री देव सुमन योग्यता छात्रवृत्ति में प्रदेश के 95 विकास खंडों से 5 प्रतिभागि के हिसाब से कुल 475 छात्र-छात्राओं का चयन किया जाना था। इस प्रतियोगिता में भिलंगना  विकासखंड के सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने ब्लॉक स्तर पर प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। जिनमें 5 बच्चों का चयन किया गया।  इस तरह से उक्त तीनों प्रतियोगिताओं में टिहरी जिले के भिलंगना विकासखंड से 53 छात्र-छात्राओं के चयन ने न सिर्फ़ जिले में बल्कि प्रदेश में भी अपनी खास पहचान बनाने में कामयाबी हासिल की है। उक्त तीनों प्रतियोगिताओं में जिले के 9 विकास खंडों में भिलंगना विकासखंड के छात्र-छात्राओं की कामयाबी के पीछे भिलंगना विकास खंड के शिक्षा अधिकारी भुवनेश्वर प्रसाद जदली की प्रशासनिक कार्य कुशलता व उचित मार्गदर्शन बताया गया है। बड़ी संख्या में बच्चों की सफलता के लिए खंड शिक्षा अधिकारी भुवनेश्वर प्रसाद जदली ने बच्चों की सफलता का श्रेय शिक्षक आशुतोष सकलानी,विनोद बडोनी,श्रीमती लक्ष्मी रावत,संदीप गैरोला व राजेंद्र रुकमणी दिया है।

  रा०इ०कालेज डाँगी नैलचामी के शिक्षक संजय गुसाईं सहित क्षेत्र के नामी-गिरामी शिक्षक-शिक्षिकाओं ने भिलंगना विकास खंड में छात्र-छात्राओं की सुव्यवस्थित पठन-पाठन के लिए खंड शिक्षा अधिकारी भुवनेश्वर प्रसाद जदली की  सराहना की है कि उन्हीं के मार्गदर्शन में ब्लॉक भिलंगना की शिक्षक-शिक्षिकाओं की टीम बच्चों के भविष्य को संवारने में निरंतर प्रयत्नशील रही है और भविष्य में भी    खंड शिक्षा अधिकारी के मार्गदर्शन में शिक्षक-शिक्षिकाएं बच्चों के उज्जवल भविष्य निर्माण में प्रयत्नशील रह कर क्षेत्र की शिक्षा को नई ऊँचाइयों पर ले जाने को संकल्प बद्धता के साथ और दृढ़ता से अपने कर्तव्यों का निर्वहन करेंगे।

छात्रवृत्ति परीक्षा में सफल हुए बच्चों को शुभकामनाएं देते हुए खंड शिक्षा अधिकारी जदली ने शिक्षक- शिक्षिकाओं का आभार जताया और उम्मीद जाहिर की कि शिक्षक वर्ग की मेहनत को छात्र-छात्राओं ने पूरी मेहनत व मनोयोग से सीखते हुए अपनी-अपनी हुनर का प्रदर्शन कर शिक्षा उन्नयन के क्षेत्र में विकास खंड को नई पहचान देने का काम किया है।