बाल शोषण को रोकना ही मेरी प्राथमिकता: निधि द्विवेदी डीसीपीसीआर सदस्य



धनसिंह—समीक्षा न्यूज

बच्चों के पर हो रहे उत्पीड़न को लेकर आशादीप फाउन्डेशन में कार्याशाला आयोजित

गाजियाबाद। एनएसीजी ईवीएसी इंडिया, वर्ल्ड विजन इंडिया एंड वर्ल्ड विजन जर्मन के सौजन्य से व आशादीप फाउंडेशन द्वारा मीडिया कर्मियों के साथ बच्चों पर हो रहे यौन शोषण अत्याचार को रोकने के लिए एक कार्यशाला का आयोजन किया गया तथा इसी कार्यशाला में लगभग 40 मीडिया कर्मियों ने भाग लिया पोक्सो एक्ट के अंतर्गत 5 बिंदुओं बाल यौन शोषण, भ्रूण हत्या, बाल तस्करी, बाल मजदूरी, बाल विवाह पर गंभीर रूप से चर्चा हुई, को कैसे रोके उस पर सभी ने महत्वपूर्ण सुझाव दिए मीडिया कर्मियों ने रिपोर्टिंग करते समय आने वाली चुनौतियों को साझा किया।

इस कार्यशाला में मीडिया कर्मियों ने बाल यौन शोषण, भ्रूण हत्या, बाल विवाह, बाल मजदूरी, बाल तस्करी आदि विषय पर आशादीप फाउंडेशन के निर्देशक एचके चेट्टी ने अपने विचार रखें वही कार्यशाला में मुख्य अतिथि के रूप में डीसीपीसीआर की सदस्य निधि द्विवेदी ने इस विषय पर खुलकर पास्को एक्ट पर विचार रखें और मीडिया कर्मियों से इस कानून के जरिए बच्चों को राहत पहुंचाने के लिए कार्य करें उन्होंने उनसे अपील की। उन्होंने बताया सरकारी मशीनरी कैसे काम करती हैं और पता लगने पर अपनी जिम्मेदारी से कैसे निभाती है। इस कार्यक्रम के दौरान बाल शोषण अत्याचार से बचाने के लिए दिए गए दिशा निर्देश वाली पुस्तक का विमोचन भी किया। इस पुस्तक को पढ़कर वह पास्को एक्ट के विषय में और अधिक जानकारी कर सकेंगे और बाल यौन शोषण अत्याचार के खिलाफ मुखरता से आवाज उठा सकेंगे।

डीसीपीसीआर की सदस्य निधि द्विवेदी ने कहा कि वे अपने जीवन के शुरूआती दौर से बाल शोषण के खिलाफ रही है और उसी सम्बंधित विभागों में वे अभी तक सेवा देती रही है। उन्होने कहा कि बाल शोषण को रोकना ही मेरी प्राथमिकता है। साथ ही उन्होने कही भी बाल शोषण से सम्बंधित कोई भी जानकारी हो उसकी शिकायत दर्ज करने के लिए नम्बर 9311551393 दिया।

कार्यक्रम के दौरान सभी पत्रकारों ने श्री चेट्टी से आग्रह किया कि वे बाल शोषण को रोकने वाली सरकारी तथा गैरसरकारी संस्थाओं सहित उनसे सम्बंधित अधिकारियों को साथ लेकर एक वाट्सअप ग्रुप बनाये और उसमें मीडिया कर्मियों को जोडा जाये ताकि किसी भी मीडिया कर्मी को कही भी बाल यौन शोषण, भ्रूण हत्या, बाल विवाह, बाल मजदूरी, बाल तस्करी आदि चीजों का ज्ञान होता है तो वह उस ग्रुप पर उसे शेयर कर सके ताकि तब उनसे सम्बंधित विभाग के अधिकारी उस पर कार्यवाही कर बाल अपराध पर रोकथाम लगा सके।

इस दौरान महिला उत्थान संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष रविंद्र राय भी मौजूद रहे वही आशादीप फाउंडेशन की सचिव ज्योति चेट्टी ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया। इसी कड़ी में सभी मीडिया कर्मियों को सम्मानित किया गया।