गुरु पूर्णिमा पर गुरु शब्द पुष्प भेंट

 गुरु पूर्णिमा पर गुरु शब्द पुष्प भें

*    *       *    *    *   *   *   *

गुरू नाम  है सबसे प्यारा

गुरु  हर लेते दुख सारा ।।


   गुरु महिमा सबसे न्यारी,  छवि लगे गुरू की प्यारी

गुरु ने सत्मार्ग दिखाया, भव  बंधन सभी छुड़ाया।

है गुरू अलौकिक शक्ति हैं गुरु मोक्ष का द्वारा।

गुरु नाम है सबसे प्यारा,  गुरु  हर लेते दुख सारा।


 जो गुरु शरण में  आता ,अपने भव रोग मिटाता।

गुरु महिमा जिसने जानी, वो हुआ न फिर अभिमानी ।

गुरु कृपा बरसती है जब , खुले  अनुभव शक्ति पिटारा।।

 गुरु नाम है सबसे प्यारा   गुरु हर लेते दुख सहारा -0


 गुरु करते  हैं रखवाली,  रखे  जैसे  बाग को  माली।

 जप ध्यान भजन से विखरे ,चहुं दिशि एक छटा निराली।

 शिव बह्मा विष्णु  समाकर ,  गुरु ज्ञान दे अपरम्पारा।।

,  गुरु नाम है सब से प्यारा गुरु हर लेते दुख सारा।।




प्रमिला पान्डेय

प्रस्तुति समीक्षा न्यूज