खाद्य आपूर्ति नागरिक मंत्री रेखा आर्य खाद्य पूर्ति विभाग के कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंची टिहरी


 वाचस्पति रयाल-समीक्षा न्यूज 

कार्यक्रम में पहुंचे लोगों को दी विभागीय जानकारियां,गिनाई केंद्र और प्रदेश सरकार की उपलब्धियां

नरेंद्रनगर। प्रदेश की खाद्य आपूर्ति नागरिक एवं युवा कल्याण तथा महिला सशक्तिकरण व बाल विकास मंत्री रेखा आर्य खाद्य पूर्ति विभाग के कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि नई टिहरी पहुंची।

 नई टिहरी स्थित विकास भवन सभागार में आयोजित ‘‘सुविधाजनक राशन कार्ड एवं उज्ज्वला योजना के अन्तर्गत निःशुल्क गैस कनेक्शन वितरण कार्यक्रम‘‘ में उन्होंने बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया।

    मंत्री द्वारा दीप प्रज्जलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया तथा उज्ज्वला गैस कनेक्शन के 09 पात्र लाभार्थियों को गैस कनेक्शसन तथा 25 राशन कार्डधारकों को सुविधाजनक राशन कार्ड वितरित किये गये।

मंत्री रेखा आर्य ने सभी लाभार्थियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि सुविधाजनक कार्ड बनने से सुरक्षा की दृष्टि से तथा डुप्लीकेसी से बचाने में यह कार्ड सहायक सिद्ध होगा। यह यूनिक कार्ड इलैक्ट्रोनिक/डिजिटल रूप में होने तथा इसमें यूनिक नम्बर कोड होने के कारण इसका उपयोग पूरे भारत में कहीं भी किया जा सकेगा। कहा कि पूरे प्रदेश में लगभग 24 लाख राशन कार्ड धारक है, जिनमें से लगभग 12 लाख को डिजिटल कर लिया गया है तथा शेष को डिजिटल करने का कार्य गतिमान है। इसके लिए 31 जुलाई, 2022 तक लक्ष्य दिया गया है, लगातार इसकी समीक्षा की जा रही है। कहा कि अपात्र राशनकार्ड धारकों से राशन कार्ड वापस करवाने हेतु  अभियान चलाया गया था तथा प्रदेश में लगभग 91 हजार राशन कार्ड सरेंडर हुए हैं। उन्होंने सरकार को सहयोग करने और पात्र व्यक्तियों को ही खाद्य सामाग्री एवं अन्य लाभ दिये जाने हेतु सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।

 खाद्य आपूर्ति एवं नागरिक मंत्री ने निर्देशित किया कि राशनकार्ड आंवटित करते हुए यह ध्यान रखा जाये कि जिस-जिस गांव से अपात्र कार्ड सरेंडर हुए हैं, उन्हीं गांव में प्राथमिकता के साथ पात्र व्यक्ति को राशन कार्ड देना सुनिश्चित करें, यदि उस गांव में पात्र व्यक्ति नहीं है, तो तत्पश्चात् न्याय पंचायत,ब्लॉक स्तर पर कार्ड आंवटित करना सुनिश्चित करें,जनपद में सरेंडर अपात्र कार्डों के सापेक्ष जनपद के पात्र लोगों को ही राशन कार्ड उपलब्ध कराये जायें। कहा कि अपात्र राशन कार्ड सरेंडर की अंतिम तिथि 30 जून, 2022 थी, अब अगर टोल फ्री नम्बर पर कोई अपात्र व्यक्ति के संबंध में सूचना प्राप्त होती है, तो उसके खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी। बायोमेट्रिक व्यवस्था एवं नेटवर्किंग से राशन वितरण में आ रही दिक्कतों के संबंध में मंत्री जी ने खाद्य विभाग को निर्देशित किया कि ऐसी परिस्थितियों में ऑफलाइन रजिस्टर मेंटेन कर राशन देना सुनिश्चित करें,कोई भी राशन से वंचित नहीं रहना चाहिए।

मंत्री ने महिलाओं को धुंआमुक्त करने के लिए तथा आज की व्यवस्था से जोड़ने के लिए केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार का धन्यवाद ज्ञापित किया। सरकार ने महिलाओं को राशन कार्ड में उनको प्रमुख जिम्मेदारी देकर उनको सशक्त बनाने का संदेश दिया है।कहा कि कई पुरूष अविवाहित रहते हैं और इन योजनाओं का संरक्षण चाहते हैं, उनके लिए भी कोशिस करेंगे। सरकार ने महिलाओं/गरीबों को साल में 03 सिलेण्डर रिफिल करने का भी निर्णय लिया है, जिसका शासनादेश जारी हो चुका है और बहुत जल्द इसका शुभारम्भ भी कर दिया जायेगा।

इस मौके पर जिलाध्यक्ष भाजपा विनोद रतूड़ी, ब्लॉक प्रमुख जाखणीधार सुनीता देवी एवं ब्लॉक प्रमुख चम्बा शिवानी बिष्ट द्वारा भी सम्बोधित कर सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का वृहद् स्तर पर प्रचार-प्रसार कर दूरस्थ क्षेत्र तक निवासरत पात्र व्यक्तियों को योजनाओं का लाभ दिलाने की बात कही गई। इससे पूर्व मुख्य विकास अधिकारी टिहरी गढ़वाल नमामि बंसल द्वारा मंत्री का पुप्पगुच्छ एवं स्मृति चिन्ह् देकर स्वागत किया गया।

जिला पूर्ति अधिकारी अरूण वर्मा ने विभागीय सूचनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि  जनपद में 27 आन्तरिक अन्न भण्डार, 1056 सरकारी सस्ता गल्ला विक्रेता, 29 पेट्रोल पम्प, 24 गैस एजेेंसियां हैं। बताया कि जनपद में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के अन्तर्गत 60 हजार 139 कार्ड, अन्त्योदय अन्न योजना के अन्तर्गत 22 हजार 407 कार्ड तथा राज्य खाद्य योजना के अन्तर्गत 60 हजार 888 कार्ड हैं। वहीं जनपद में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अन्तर्गत जुलाई, 2019 से जून, 2022 तक कुल 27 हजार 04 उपभोक्ताओं को लाभान्वित किया जा चुका है, जबकि राज्य उज्ज्वला योजना के अन्तर्गत 132 उपभोक्ताओं को लाभान्वित किया गया है। बताया कि जनपद में ‘‘अपात्र को ना-पात्र को हाँ‘‘ अभियान के अन्तर्गत 08 हजार 434 राशन कार्ड समर्पित किये गये हैं।

इस मौके पर मण्डल अध्यक्ष भाजपा विजय कठैत, महामंत्री भाजपा गोविन्द रावत, डीपीओ बबीता शाह सहित अन्य जनप्रतिनिधि, प्रेस प्रतिनिधि, अधिकारी एवं लाभान्वित लाभार्थी मौजूद रहे।