वरिष्ठ भाजपा नेता महंत माकंर्डेय पशुपति उर्फ पंकज त्यागी को 17 अगस्त से मिल रहे धमकी भरे पत्र

कपिल कुमार-समीक्षा न्यूज

गाजियाबाद। साहिबाबाद क्षेत्र में रहने वाले वरिष्ठ भाजपा नेता महंत माकंर्डेय पशुपति उर्फ पंकज त्यागी को 17 अगस्त को एक धमकी भरा पत्र मिला था। जिसमें उनको देख लेने की बात कही लिखी थी। महा राज ने इस सम्बंध में साहिबाबाद पुलिस को एक प्रार्थना पत्र देकर अवगत कराया। जिसके बाद साहिबाबाद पुलिस ने उस पत्र के आधार पर अज्ञात के खिलाफ 506 धारा के तहत मुकदमा पंजीकृत किया। लेकिन धमकी देने पर इसका कोई असर नहीं हुआ और दोबारा 10 दिन बाद एक और धमकी भरा पत्र उनके यहां आया। जिस पत्र में साफ तौर पर लिखा था कि तुम्हारी एक ही सजा सर तन से जुदा । जिस के बाद महंत मारकंडे पशुपति उर्फ पंकज त्यागी ने दोबारा से स्थानीय पुलिस को व उच्च अधिकारियों को अवगत कराया।
साहिबाबाद पुलिस जहां एक तरफ अपराधियों की धरपकड़ करके सलाखों के पीछे भेज रही है और लगातार मुठभेड़ में अपराधियों को घायल करके उनके अंदर भय पैदा कर रही है, वहीं दूसरी ओर साहिबाबाद क्षेत्र में ही वरिष्ठ भाजपा नेता को दो बार धमकी भरा पत्र मिलता है और इतने दिन बीत जाने के बाद भी साहिबाबाद पुलिस के हाथ अभी भी खाली हैं। साहिबाबाद पुलिस आखिर इस पत्र के आधार पर कहां तक पहुंची है, इस बारे में इंस्पेक्टर से लेकर क्षेत्राधिकारी व एसपी सिटी भी बोलने से कतरा रहे हैं। हालाँकि महंत को मिले दूसरे धमकी भरे पत्र के बाद साहिबाबाद की सुपर कोप मानी जाने वाली एसओजी की टीम महंत के घर पर पहुंची और मामले की जांच पड़ताल दिखाते हुए महंत से मात्र 24 घंटे में इस केस को खोलने के और धमकी देने वाले को सलाखों के पीछे डालने की बात कह कर आई। परंतु उसके बाद से आज लगभग 200 घंटे बीत जानेके बाद भी इस मामले में कोई सफलता नहीं मिली है।
वरिष्ठ भाजपा नेता महंत मारकंडे पशुपति उर्फ पंकज त्यागी के यहां लगभग चारों तरफ सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। मगर उन सीसीटीवी कैमरो की डीवीआर कई महीनों से खराब पड़ी है। महंत मारकंडे पशुपति ने पुलिस को जांच में बताया कि सीसीटीवी के डीवीआर की खराबी के बारे में सिर्फ उनको ही पता था। जबकि जांच करने वाली एसओजी टीम का कहना है कि आपको सीसीटीवी कैमरे ठीक रखने चाहिए। जबकि उस एरिया के आसपास और भी सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। लेकिन पुलिस उनकी फुटेज खंगालने की जहमत नहीं उठा रही है।
महंत माकंर्डेय पशुपति उर्फ पंकज त्यागी का शुरू से ही प्रयागराज कीसांसद रीता बहुगुणा जोशी से पारि वारिक रिश्ता रहा है। महंत माकंर्डेय पशुपति ने जब गाजियाबाद पुलिस की लापरवाही के बारे में सांसद रीता बहुगुणा जोशी को बताया तो उन्होंने महंत माकंर्डेय पशुपति को पशुपतिको आश्वासन दिया है कि वह जल्द ही यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से इस बारे में चर्चा करेंगी और जल्द ही यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ इस मामले में खुद संज्ञान लेंगे। महंत माकंर्डेय पशुपति ने साफ तौर पर कहा है कि वह गाजियाबाद की पुलिस की कार्यशैली पर विश्वास नहीं रखते और अब वह अपने स्तर से खुद ही इस धमकी भरे पत्र देने वाले के बारे में पता लगाएंगे और जल्द ही एक बड़ी प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए गाजियाबाद पुलिस के द्वारा किए गए उनके साथ दुर्व्यवहार के बारे में सनसनीखेज खुलासा करेंगे।