नितिन भारद्वाज मामले ने लिया नया मोड़, नगर निगम के खिलाफ धरना शुरू



समीक्षा न्यूज 

गाजियाबाद। नगर निगम कर्मचारी संघ के महामंत्री नितिन भारद्वाज को दिए गए कारण बताओं नोटिस के वापिस नहीं लेने को लेकर विवाद आज से नए मोड़ पर पहुंच गया। नगर निगम कर्मचारियों ने आज से निगम में कार्य का बहिष्कार कर धरना शुरू कर दिया। सभी कर्मचारियों ने पार्क में बैठकर नगर निगम के खिलाफ धरना शुरू कर दिया। अब संघ का कहना है कि उन्होंने नितिन भारद्वाज के मामले से पहले एक पन्द्रह सूत्रीय ज्ञापन नगर निगम प्रशासन को दिया था। उसमें बताई गई मांगे अगर पूरी नहीं होगी तो आंदोलन जारी रहेगा । नगर निगम कर्मचारी संघ और नगर निगम प्रशासन के बीच तनातनी कई वर्ष बाद पहली बार हुई है। इससे पहले नगर आयुक्त अब्दुल समद के दौरान सफाई कर्मचारियों ने धरना दिया था जिसको खुद तत्कालीन नगर आयुक्त अब्दुल समद ने हटा दिया था । तब से लेकर आज तक नगर निगम में कोई धरना प्रदर्शन नहीं हुआ। हाल ही में नगर निगम कर्मचारी संघ की नई कमेटी बनी है। संघ के पूर्व अध्यक्ष नैन सिंह पर आरोप लगते रहे है कि वह निगम प्रशासन के खिलाफ आक्रमक नहीं है। हाल ही में अध्यक्ष पद पर आसीन हुए रवीन्द्र कुमार ने इस मिथक को तोड़ दिया । उन्होंने जिस तरह से अपनी रणनीति दिखाई और जिस तरह से नगर निगम प्रशासन के खिलाफ झुकने से मना किया है इससे संघ की आक्रमकता नजर आ रही है यहीं कारण है कि नगर निगम कर्मचारी संघ ने तमाम दबाव के बावजूद आज से नगर निगम में अपना आंदोलन शुरू कर दिया । नगर निगम कर्मचारियों ने आज अपने कार्य का बहिष्कार किया और वह हड़ताल पर बैठ गए। नगर निगम कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने निगम परिसर पार्क में धरना दिया। इसकी अध्यक्षता संघ अध्यक्ष रवीन्द्र कुमार ने की। इस दौरान बड़ी संख्या में कर्मचारी धरने पर बैठे। इनमें संजय शर्मा, चौब सिंह, नितिन भारद्वाज आदि मौजूद रहे।