पैराडाइस क्लब द्वारा "मायके की यादें" विषय पर कार्यक्रम आयोजित



समीक्षा न्यूज नेटवर्क

गाजियाबाद। भारतीय कला एवं संस्कृति के प्रचार एवं प्रसार के लिए समर्पित पैराडाइस क्लब की स्थापना का मुख्य उदेश्य समाज मे नयी पीड़ी को अपनी संस्कृति के उत्थान के प्रति लगाव हेतु प्रेरित करना है। केवल महिलाओं द्वारा संचालित, इस एकमात्र क्लब द्वारा समय समय पर होने वाले विभिन्न परवों को परम्परागत तरीके से अत्यंत धूम धाम से अयोगित किया जाता है।

इसी श्रँखला में संस्था ने "मायके की यादें" विषय पर श्रीमती रेनू अग्रवाल जी के राज नगर स्थित निवास स्थान पर कार्यक्रम आयोजित किया जिसमे सभी सदस्य अपनी मायके से मिली हुई साड़ी पहन कर आई। 

मेजबान द्वारा घर की साज सज्जा मे भी बचपन के खिलोने, मायके से मिला सामान एवं मायके के रिश्तों से जुड़े सामान को दर्शाया गया जिससे सभी सदस्यों की उनके मायके के दिनों की यादें ताज़ा हो गयीं।

सभी सदस्यों ने मायके से जुड़े रिश्तों की कुछ खट्टी मीठी झलकियां प्रस्तुत करी और उन्ही रिश्तों से सम्बंधित  गीतों पर नृत्य प्रस्तुत किया।

पूनम एवं अर्चना ने दादी और पोती के रिश्ते को दर्शाया, अम्बिका और ममता ने नानी और देवती के प्यार को प्रस्तुत किया, मेघना और मिनाक्षी ने बहनों के रिश्ते की नौक झोंक को सुन्दर नृत्य नाटिका द्वारा प्रस्तुत किया 

गति गर्ग एवं अल्पना द्वारा माँ का अपनी बेटी के प्रति ममतामई प्यार दर्शाया गया, सरिता, अनीता एवं रीता ने जीजा साली की प्यार भरी नौक झोंक प्रस्तुत करी, ऐश्वर्या और अल्का ने भाई बहन का रिश्ता दर्शाया।

मेजबान रेनू अग्रवाल जी द्वारा सभी प्रतिभागियों को सुन्दर उपहार भेंट मे दिया गया।

 क्लब की संस्थापक अध्यक्ष  मेघना बंसल द्वारा सभी मेहमानों को बधाई और धन्यवाद दिया गया।