पुलिस कमिश्नर अजय मिश्रा मीडिया से हुए रूबरू, अपराध, ट्रैफिक आदि के बारे में दी जानकारी



समीक्षा न्यूज 

गाजियाबाद। गाजियाबाद पुलिस कमिश्नरेट के पहले पुलिस कमिश्नर अजय कुमार मिश्रा ने बुधवार को चार्ज संभालने के बाद कहा कि वह 15 दिन के भीतर पुलिस कमिश्नर प्रणाली को लागू कर देंगे। तीन महीने के भीतर लोगों को पुलिस में बदलाव दिखने लगेगा। कमिश्नरेट के लिए 1000 पुलिसकर्मी मिलेंगे। इनकी तैनाती जल्द की जाएगी।

मंगलवार रात करीब डेढ़ बजे लखनऊ से गाजियाबाद पहुंचे अजय कुमार मिश्रा ने बुधवार सुबह साढ़े आठ बजे कार्यभार ग्रहण किया। वह सबसे पहले हिंडन एयरपोर्ट पहुंचे। वहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आए थे। योगी खतौली उप चुनाव में जनसभा करने जा रहे थे। वहां से लौटने के बाद मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि पुलिस कमिश्नर प्रणाली को लागू करने पर काम शुरू हो चुका है।

पुलिसिंग को लोगों के अनुकूल बनाकर अपराध में कमी लाएंगे और जांच में तेजी लाई जाएगी। ट्रैफिक व्यवस्था, साइबर अपराध, महिला अपराध, स्नैचिंग पर लगाम लगाई जाएगी। उन्होंने कहा कि हर अपराध की मॉनिटरिंग के लिए उनके साथ आईपीएस अधिकारियों की तैनाती रहेगी। अधिकारियों की संख्या बढ़ने से कार्य में तेजी आएगी। महिलाओं की सुरक्षा की प्रत्येक डीसीपी को जिम्मेदारी दी जाएगी।



निकाय चुनाव निष्पक्ष और शांतिपूर्ण कराएंगे

पुलिस कमिश्नर ने कहा कि निकाय चुनाव पूरे प्रदेश में होने हैं। जिला पुलिस चुनाव की तैयारी पहले से ही कर रही है। पुलिस की भूमिक निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव कराने में रहेगी।


ट्रैफिक जाम भी अपराध

पुलिस कमिश्नर अजय कुमार मिश्रा ने कहा कि चोरी, लूट व अन्य अपराध से अलग ट्रैफिक जाम भी एक किस्म का अपराध है। ट्रैफिक की अव्यवस्था समाज को प्रभावित करती है। शहर को जाम मुक्त करने के लिए व्यवस्थित ट्रैफिक प्लान बनाकर समाधान निकाला जाएगा।


कैमरों की संख्या बढ़ाएंगे

कमिश्नरेट बनने के बाद जिले को अतिरिक्त पुलिस बल मिलेगा। सीसीटीवी कैमरों की संख्या बढ़ाकर अपराध पर लगाम लगाई जाएगी। इसके लिए सभी व्यापारिक संगठनों से समन्वय बनाकर रणनीति बनाई जाएगी।


कमिश्नरेट के लिए जमीन की तलाश

पुलिस कमिश्नरेट भवन के लिए पुलिस ने जमीन की तलाश कर ली है। शासन ने इसके लिए निर्देश दिए हैं। दो जगह जमीन देखी गई है। राजनगर एक्सटेंशन और मधुबन बापूधाम। राजनगर एक्सटेंशन शहर के बिल्कुल बीच में है। मधुबन बापूधाम तेजी से विकसित हो रहा क्षेत्र है। यहां जमीन मिलना आसान है।