“आशादीप फाउंडेशन“ के प्रांगण में विश्व विकलांग दिवस कार्यक्रम आयोजित



समीक्षा न्यूज नेटवर्क

साहिबाबाद। “आशादीप फाउंडेशन“ शहीद नगर के प्रांगण में विश्व विकलांग दिवस कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिला विकलांग सशक्तिकरण अधिकारी सुधीर त्यागी मुख्य अतिथि रहे, अध्यक्षता संस्था के निदेशक एच0 के0 चेट्टी ने की, मुख्य वक्ता शिक्षाविद लोक शिक्षण अभियान ट्रस्ट के संस्थापक/अध्यक्ष राम दुलार यादव भी कार्यक्रम में शामिल रहे, आयोजन संस्था की मुख्य कार्यकारी अधिकारी ज्योति चेट्टी ने किया, विशिष्ट अतिथि अरुण शर्मा बाल संरक्षण अधिकारी दिल्ली ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया, महिला उत्थान संस्था की राष्ट्रीय अध्यक्ष बिन्दु राय ने गीत प्रस्तुत कर दिव्यांग भाई, बहनों को भाव-विभोर कर दिया, सभी उपस्थित दिव्यांग जनों, कमजोर वर्गों में गर्म कंबल, सूखा राशन वितरित किया गया, ट्राई साइकिल प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान पाने वाले निहाल सिंह, नवीन और विशाल सिंह को धन्यवाद के साथ, सभी अतिथियों को प्रतीक चिन्ह, वार्षिक रिपोर्ट भेंटकर संस्था के निदेशक तथा कार्याधिकारी ने सम्मानित किया, जिला दिव्यांग सशक्तिकरण अधिकारी सुधीर त्यागी ने दिव्यांग भाई, बहनों को सरकार से जो भी सुविधाएं उपलब्ध करायी जाती है विस्तार से बताया तथा हर संभव सहायता करने का आश्वासन दिया, उन्होने कहा कि सरकार दस हजार रुपये दिव्यांग जनों को उपलब्ध कराती है जिससे वह कुछ छोटा सामान बेंच सके, इसमें 2500/= अनुदान है बाकी बहुत ही कम ब्याज पर रकम दी जाती है, सभी को पेंशन दिया जाता है, जिनकी पेंशन नहीं बनी है वह कार्यालय में संपर्क कर योजनाओं से लाभान्वित हो सकते है।

शिक्षाविद राम दुलार यादव ने सभी का स्वागत करते हुए कहा कि हमारे देश में पूर्ण जनसंख्या का 2% से अधिक विकलांग भाई, बहनों की संख्या है, विश्व में एक अरब लोग विकलांग है, उन्हे मुख्य धारा में लाने के लिए अधिक अनुदान की आवश्यकता है, वह छोटा-मोटा काम कर आत्मनिर्भर बन सकते है, सरकार उनके लिए चिकित्सा, शिक्षा की व्यवस्था नि:शुल्क करे तथा पेंशन भी बढ़ाई जाय, तभी वह सम्मान जनक जीवन जी सकते है, समाज को उनकी गरिमा का पूरा ख्याल रखना चाहिए, तथा उनके लिए सरकार समान अवसर प्रदान करे, उनमें प्रतिभा की कोई कमी नहीं है, उनमें प्रकृतिदत्त गुण विद्यमान है, दिव्यांग बच्चों के लिए शिक्षा का उचित प्रबंध करना अति आवश्यक है, आत्मनिर्भर बनाने की कुंजी शिक्षा है, जिससे सारे ताले खुल जाते है, वह सम्मान स्वाभिमान से कर्तव्य पथ पर अग्रसर रहता है| कार्यक्रम में प्रमुख रूप से शामिल रहे, एच0के0 चेट्टी, ज्योति चेट्टी, सुधीर त्यागी, राम दुलार यादव, अरुण शर्मा, बिन्दु राय, निहाल सिंह, नवीन, विशाल सिंह आदि।