गाजियाबाद निरीक्षको/उप निरीक्षको के किये स्थानांतण

24 चौकी इंचार्ज समेत 47 दरोगाओं के तबादलों की पहली सूची जारी

समीक्षा न्यूज नेटवर्क

गाजियाबाद।  गाजियाबाद को कमिश्नरेट बनाए जाने के बाद । जिले को कुल 3 जोन में विभाजित किया गया है जिले में 2003 बैच के आईपीएस अजय मिश्रा को पहला पुलिस आयुक्त बनाया गया। अजय मिश्रा ने चार्ज संभालने के बाद 24 चौकी इंचार्ज सुमित 45 दरोगा के तबादले की पहली सूची जारी की।

गाजियाबाद को अपराध मुक्त किए जाने के उद्देश्य से गाजियाबाद में कमिश्नरेट लागू कर दी गई है।गाजियाबाद के पहले कमिश्नर के रूप में अजय मिश्रा ने पदभार संभाला और कमिश्नरी में सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए जाने के लिए कवायद शुरू हो गई है। जिसके चलते आज गाजियाबाद में 24 चौकी इंचार्ज समेत कुल 47 सब इंस्पेक्टर और इंस्पेक्टरों के तबादले कर उन्हें इधर से उधर किया गया है। इनमें बड़ी संख्या में वह पुलिसकर्मी हैं, जो पिछले काफी समय से पुलिस लाइन में चल रहे थे। लेकिन अब उन्हें भी तैनाती मिल गई है।

कमिश्नरी बनने के बाद पहली सूची हुई जारी

2003 बैच के आईपीएस अजय मिश्रा को गाजियाबाद का पहला कमिश्नर बनाया गया। अजय मिश्रा ने 30 नवम्बर को कमिश्नर का पदभार ग्रहण किया। जिसके बाद से उन्होंने गाजियाबाद को अपराध मुक्त किए जाने के उद्देश्य से कई तरह की योजना तैयार की है। गाजियाबाद कमिश्नरी को नगर, ट्रांस हिंडन और देहात यानी कुल तीन जोन में विभाजित किया गया है। जिले में पुलिस आयुक्त के अलावा एक अपर पुलिस आयुक्त की भी तैनाती की जाएगी।

गाजियाबाद को 3 जोन में किया गया विभाजित

इन तीनों जोन में एक -एक  पुलिस आयुक्त रहेगा। नगर में एसीपी कोतवाली एसीपी नंदग्राम, एसीपी कवि नगर में तैनात रहेंगे। नगर जोन में शहर कोतवाली, थाना विजयनगर, थाना सिहानी गेट, थाना नंदगम ,थाना कवि नगर और थाना मधुबन बापूधाम को रखा गया है।इसके अलावा ट्रांस हिंडन जोन में भी एक एसीपी इंदिरापुरम और एक एसीपी की साहिबाबाद में तैनाती की जाएगी।ट्रांस हिण्डन जोन में थाना इंदिरापुरम, खोड़ा, कौशाम्बी, साहिबाबाद ,लिंक रोड और थाना टीला मोड़ को रखा गया है। इसके अलावा देहात में भी एक एसीपी लोनी,  एक एसीपी मसूरी ,एक एसीपी मोदीनगर और एक एसीपी की वेवसिटी में भी तैनाती रहेगी।वहीं देहात के अंतर्गत थाना मोदीनगर, निवाड़ी, भोजपुर, वेब सिटी, क्रॉसिंग रिपब्लिक ,महिला थाना,लोनी कोतवाली, लोनी बॉर्डर , ट्रॉनिका सिटी मुरादनगर और थाना मसूरी को सम्मिलित किया गया है। इस पूरी व्यवस्था में पुलिसकर्मियों की तैनाती सुनिश्चित की जा रही है। वहीं दूसरी तरफ निकाय चुनाव भी नजदीक हैं। जिसे लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से बेहद गंभीर है और पुलिस कर्मियों की तैनाती शुरू कर दी गई है।