सीडीओ विक्रमादित्य सिंह मलिक ने अधिकारियों को विद्यालयों का नियमित निरीक्षण करने के दिए गए निर्देश




धनसिंह—समीक्षा न्यूज 

गाजियाबाद। जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह के निर्देशन में मुख्य विकास अधिकारी विक्रमादित्य सिंह मलिक की अध्यक्षता में आज जिला शिक्षा एवं अनुश्रवण समिति की मासिक समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट के महात्मा गांधी सभागार में आयोजित हुई। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी विनोद कुमार मिश्र ने बैठक का आरंभ करते हुए पीपीटी के माध्यम से मुख्य विकास अधिकारी को बेसिक शिक्षा विभाग की योजनाओ के अनुपालन की प्रदेश स्तर पर जनपद की स्थिति से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि कायाकल्प के 19 पैरामीटर्स पर 99 प्रतिशत नगर व 96प्रतिशत ग्रामीण क्षेत्र विद्यालय संतृप्त हैं। प्रदेश स्तर पर जनपद गाजियाबाद का स्थान प्रथम है। मुख्य विकास अधिकारी ने बेसिक शिक्षा विभाग में चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की स्थिति के बारे में जानकारी प्राप्त करने के साथ उन्हें समय से पूर्ण कराने हेतु आवश्यक रणनीति बनाकर प्रयोग में लाने के निर्देश दिए। निर्माण हेतु उपलब्ध 52 यूनिट्स के समय से पूर्ण करने के निर्देश दिए गए। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा सीएसआर फंड के अंतर्गत किए गए कार्यों का भी विवरण प्रस्तुत किया गया। निरीक्षण हेतु बीटीएफ और डीटीएफ का रोस्टर बना करके व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से प्रतिदिन पुनरस्मरण कराने के निर्देश दिए गए। मुख्य विकास अधिकारी ने स्कूलों का लगातार निरीक्षण कर इनकी शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार लाने के निर्देश दिए तथा विद्यालयों में अधिक से अधिक समय देने हेतु आदेशित किया। उन्होंने कहा कि अगर व्यवस्था में सुधार नहीं पाया जाता है तो कड़े कदम उठाने होंगे लेकिन प्रत्येक दशा में विद्यालयों की दशा एवं गुणवत्ता में सुधार हेतु प्रतिबद्ध होना अनिवार्य होगा। मुख्य विकास अधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी तथा एसआरजी टीम से निपुण भारत के लक्ष्यों को प्राप्त करने की प्रगति तथा मेंटर्स द्वारा किसी विद्यालय में सहयोगात्मक पर्यवेक्षण के महत्वपूर्ण चरणों को जाना। मुख्य विकास अधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि सभी विद्यालयों का निरीक्षण कर बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा संचालित योजनाओं का अनुपालन सुनिश्चित कराएं तथा स्वयं भी अधीनस्थ अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा किए जा रहे निरीक्षण कार्यों की मॉनिटरिंग करें। बैठक में निपुण भारत, निरीक्षण एवं सहयोगात्मक अनुश्रवण, आपरेशन कायाकल्प, जिला समन्वयक एवं ब्लॉक पर एमआईएस की नियुक्ति तथा अन्य बिंदुओं की समीक्षा की गई। एनएटी 1 परीक्षा के परिणाम पर संतोष व्यक्त करते हुए आगामी एनएटी परीक्षा हेतु कटिबद्ध होकर प्रयास करने को निर्देशित किया। जनपद में स्मार्ट क्लास, एस्ट्रोनॉमी लैब की उपयोगिता एवं लैब स्थापना हेतु स्थान चिन्हित करने पर चर्चा करते हुए मुख्य विकास अधिकारी महोदय ने खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि इस संबंध में सर्वे कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के अंतर्गत कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय रजापुर में सभी मानकों के साथ आदर्श इन्फ्रास्ट्रक्चर निर्माण करने का प्रस्ताव रखा गया। शैक्षिक गुणवत्ता संवर्धन हेतु प्रयोग में लाए जा रहे विभिन्न ऐप जैसे दीक्षा एप, निपुण लक्ष्य ऐप, समर्थ ऐप,  सहयोगात्मक पर्यवेक्षण ऐप, रीड अलोंग ऐप, निरीक्षण ऐप आदि के बारे में जानकारी ली गई। समस्त खंड शिक्षा अधिकारियों द्वारा उनके ब्लॉक पर अपनायी जा रही कार्य योजना पर समस्त उपस्थित अधिकारियों एवं मुख्य विकास अधिकारी को पीपीटी के माध्यम से कार्ययोजना का प्रस्तुतीकरण दिया। इस अवसर पर महिला एवं बाल कल्याण अधिकारी शशि वार्ष्णेय, समाज कल्याण अधिकारी अमर जीत सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी विनोद कुमार मिश्र, वित्त एवं लेखाधिकारी मनप्रीत कौर, खंड शिक्षा अधिकारी दीपक कुमार, प्रवीण अग्रवाल, सर्वेश कुमार, हेमेंद्र सिंह, भूपेश कुमार, कुसुम सिंह, समस्त जिला समन्वयक डॉ0 राकेश, अरविंद शर्मा, रुचि त्यागी, विश्वास गौतम, सुशील कुमार, टिंकू कंसल, एसआरजी पूनम शर्मा, व विनीता त्यागी व एआरपी रेनू चौधरी, अंजू, शैलजा व वाणी, नमिता उपस्थित रहे। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जनसमस्याओं का अधिकारी तुरंत किया करे निस्तारण: विधायक सुनील कुमार शर्मा

विधायक सुनील कुमार शर्मा जन-चौपाल में सुनी जनसमस्यायें, उमड़ा जनसैलाब