जनसुनवाई त्वरित हो, किन्तु गलत काम बिल्कुल ना करें: श्री असीम अरूण माननीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) समाज कल्याण, उत्तर प्रदेश



अपने दायित्वों का सभी अधिकारी करें ईमानदारी से निवर्हन: श्री असीम अरूण माननीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)

——————————————————————


विभाग में भ्रष्टाचार ना पनपे, अधिकारी रखें ध्यान: श्री असीम अरूण 

——————————————————————


गाजियाबाद। महात्मा गांधी सभागार, कलेक्ट्रेट में श्री असीम अरूण माननीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) समाज कल्याण, उत्तर प्रदेश सरकार की अध्यक्षता में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक आहूत हुई।

बैठक में मुख्य रूप से श्रीमती ममता त्यागी जिला पंचायत अध्यक्षा, श्री अजीत पाल त्यागी विधायक मुरादनगर, श्री धर्मेश तौमर विधायक धौलाना, श्री संजीव शर्मा महानगर अध्यक्ष भाजपा व पुलिस आयुक्त गाजियाबाद श्री अजय कुमार मिश्रा, जिलाधिकारी श्री इन्द्र विक्रम सिंह, जीडीए उपाध्यक्ष श्री अतुल वत्स, मुख्य विकास अधिकारी श्री अभिनव गोपाल, प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी प्रभार सुश्री ईशा तिवारी, मुख्य ​चिकित्सा अधिकारी डॉ.भवतोष शंखधर सहित सभी विभागों के अधिकारी/ विभागाध्यय/ प्रतिनिधि उपस्थित रहे।


गार्ड आॅफ आॅनर व पुष्प गुच्छ भेंट कर किया स्वागत व सम्मान

माननीय राज्यमंत्री श्री असीम अरूण के कलेक्ट्रेट पहुंचने पर उनको गार्ड आॅफ आॅनर दिया गया। ​पुलिस आयुक्त श्री अजय कुमार मिश्रा, जिलाधिकारी श्री इन्द्र विक्रम सिंह सहित अन्य गणमान्यों द्वारा उन्हें पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत किया गया। 


05 लेखपालों को मौके पर नियुक्ति पत्र वितरित

बैठक के दौरान माननीय राज्यमंत्री द्वारा जनपद गाजियाबाद में नवचयनित 10 लेखपालों में से मौके पर 05 लेखपालों रेनू रानी, अपेक्षा त्यागी, मनीषा चौधरी, श्वेता, मोनिका को नियुक्ति पत्र दिया गया। 


योजनाओं के तहत टूलकीट व चैक प्रदान किया

ओडीओपी एवं विश्वकर्मा श्रम सम्मान प्रशिक्षण योजनान्तर्गत लाभार्थियों श्री रवि कुमार शर्मा को रेलवे पार्टस मैन्यूफैक्चरिंग को रूपये एक करोड़ नवासी लाख सैंतालीस हजार मात्र का सांकेतिक चैक दिया गया। इसके साथ ही ओडीओपी प्रशिक्षण एवं टूलकीट में श्री मुरारी लाल शर्मा, विश्कर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत श्रीमती सीमा शर्मा (दर्जी), मौ0यासीन (राजमिस्त्री), श्री चरन सिंह (राजमिस्त्री) को टूलकीट प्रदान की गई।


आरटीई के छात्रों से लें ​फीडबैक

माननीय राज्यमंत्री ने आरटीई के तहत किए जा रहे दाखिले के बारे में विस्तार से जाना, जिलाधिकारी महोदय ने अवगत कराया कि अभी 261 दाखिले ​शेष हैं जिन्हें जल्द ही करवा दिया जायेगा। श्री असीम अरूण राज्यमंत्री महोदय ने कहा कि पूर्व में आरटीई के तहत जिन छात्रों का दाखिला करवाया गया है उनसे फीडबैक ​ली जाए कि उनके साथ स्कूल प्रबंधन कोई भेदभाव तो नहीं कर रहे हैं। यदि ऐसा पाया जाता है तो उक्त स्कूल के खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की जाए।


जनसुनवाई त्वरित कार्यवाही से करें

बैठक के दौरान माननीय राज्यमंत्री ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि जनसुनवाई में आने वाली शिकायतों का त्वरित गुणवत्तापूर्ण निस्तारण किया जाए। कोई भी शिकायतकर्ता अपनी शिकायत के निस्तारण हेतु परेशान ना हो। कहा कि ज्यादातर मामले पुलिस विभाग से जुड़े हेतु हैं। अत: पुलिस अधिकारियों को इस ओर ध्यान देने की बेहद आवश्यकता है।


किसी भी विभाग में भ्रष्टाचार ना पनपे

माननीय राज्यमंत्री ने कहा कि पुलिस विभाग, जीडीए, नगर निगम,  विकास विभाग, जिला प्रशासन सहित अन्य किसी भी विभाग में भ्रष्टाचार नहीं पनपना चाहिए, इसके लिए उच्च अधिकारी इस बात का ध्यान रखें। सभी लोग ईमानदारी से अपने दायित्वों को निवर्हन करें।


जन प्रतिनिधियों एवं जनसेवियों का रखें ध्यान

माननीय राज्यमंत्री ने कहा कि यदि कोई जन प्रतिनिधि या जनसेवी आपके कार्यालय पर आता है तो उसका शिकायत को ध्यान से सुना जाए। वह जनप्रतिनिधि या जनसेवी किभी भी पार्टी, संस्था या आम आदमी ही क्यों ना हो वह सम्मानित हैं क्योंकि वह समाज/जन हित 

में कार्य कर रहा है। आपको अपना कार्य ईमानदारी से करना है यदि कोई आपसे गलत कार्य करने के लिए कहें तो बिल्कुल ना करें।


वृक्षारोपण में जो पौधे सर्वाइव कर सकें वही लगाये

माननीय राज्यमंत्री ने कहा कि वृक्षारोपण के दौरान वे ही पौधे लगाएं जाए जो सर्वाइव कर सकें। ​फलदार पौधे ऐसे हो जिनकी हाईट 4 फीट से ज्यादा ही हो, ताकि वे सर्वाइव कर सके।


बैठक में सभी विभागों के अधिकारियों, जन प्रतिनिधियों सहित जिला सूचना अधिकारी श्री योगेन्द्र प्रताप सिंह द्वारा प्रतिभाग किया गया।















Post a Comment

0 Comments